Uttarakhand LT Hindi Previous Paper 2021

Uttarakhand LT Hindi Previous Paper 2021 का प्रश्न पत्र यहाँ से देख या पढ़ सकते हैं। इस प्रश्न पत्र को हाल करने के बाद अपनी तैयारी जाँचें।

इसके उत्तर आप कमेंट में लिख सकते हैं।

1. ‘सूरसागर’ में वर्णित राधा-कृष्ण की लीलाओं की अनुरूपता है : 

1. भागवत के द्वादश स्कंध से 

2. भागवत के द्वितीय स्कंध से 

3. भागवत के अष्टम् स्कंध से 

4. भागवत के नवम् स्कंध से 

2. ‘हिंदी साहित्य का आलोचनात्मक इतिहास’ के लेखक है : 

1. डॉ. राम कुमार वर्मा 

2. आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी 

3. डॉ. धीरेन्द्र वर्मा 

4. डॉ. नलिन विलोचन शर्मा 

3. निम्नलिखित में से कौन-सी कृति सच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन ‘अज्ञेय’ की नहीं है? 

1. साये में धूप 

2. चिन्ता 

3. बावरा अहेरी 

4. इन्द्रधनु रोंदे हुए ये

4. निम्नलिखित में से, जायसी कृत ‘पदमावत’ में प्रयुक्त छंद है : 

1. सोरठा – दोहा 

2. चौपाई – दोहा 

3. चौपाई – सोरठा 

4. दोहा – सोरठा 

5. नाभादास किस भक्ति धारा के कवि हैं? 

1. कृष्ण भक्त कवि 

2. राम भक्त कवि 

3. प्रेममार्गी कवि 

4. वानमार्गी कवि 

6. ‘तार – सप्तक’ का संपादन हिंदी कविता के किस युग की शुरुआत से संबंधित है? 

1. छायावाद युग से 

2. प्रगतिवाद युग से 

3. प्रयोगवाद युग से 

4. हालावाद युग से

8. निम्न में से सुमेलित नहीं है : 

1. कामायनी – जयशंकर प्रसाद 

2. रामचरित मानस – तुलसीदास 

3. चिदम्बरा – महादेवी वर्मा 

4. चिता के फूल – रामवृक्ष बेनीपुरी 

9. महादेवी वर्मा कृत ‘मेरा परिवार’ रेखाचित्र का प्रकाशन वर्ष है : 

1. 1971 ई. 

2. 1972 ई. 

3. 1977 ई. 

4. 1941 ई. 

10. ‘सुहाग बिन्दी’ और ‘ययाति’ नाटकों के रचनाकार हैं : 

1. उदयशंकर भट्ट 

2. धर्मवीर भारती 

3. गोविन्द बल्लभ पंत 

4. हरिकृष्ण प्रेमी

11. आलो-आँधारि की नायिका एवं लेखिका का जीवन किसके सहयोग से बदला ? अर्थात वह घरेलू नौकरानी रहते हुए लेखिका कैसे बन सकी? 

1. मातुस 

2. दातुस 

3. तातुस 

4. यातुस 

12. अस्सी के दशक में राजस्थान के पारम्परिक जल स्रोतों पर खोज कर विस्तार से लिखने वाले साहित्यकार थे : 

1. जैनेन्द्र कुमार 

2. रामचंद्र शुक्ल 

3. ओम थानवी 

4. हजारी प्रसाद द्विवेदी 

13. निम्नलिखित काव्यधाराओं में से कौन-सी काव्यधारा भक्तिकाल के अंतर्गत नहीं आती है?

1. रामभक्ति काव्यधारा 

2. रासो काव्यधारा 

3. ज्ञानाश्रयी काव्यधारा 

4. कृष्णभक्ति काव्यधारा

14. ‘खबर का मुँह विज्ञापन से ढका है।’ के रचनाकार हैं : 

1. वीरेन डंगवाल 

2. मंगलेश डबराल 

3. लीलाधर जगूड़ी 

4. गंगा प्रसाद विमल 

15. सच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन ‘अज्ञेय’ द्वारा रचित ‘एक बूँद सहसा उछली’ रचना है : 

1. यात्रा वृत्तांत विधा की 

2. डायरी विधा की 

3. जीवनी विधा की 

4. रिपोर्ताज विधा की 

16. खड़ी बोली का पहला महाकाव्य माना जाता है : 

1. प्रियप्रवास को 

2. यशोधरा को 

3. साकेत को 

4. विष्णुप्रिया को

17. निबंध लेखन में ललित निबंध परंपरा के जनक हैं : 

1. कृबेरनाथ राय 

2. आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी 

3. रामचंद्र शुक्ल 

4. विद्या निवास मिश्र 

18. हिंदी साहित्य में निबंध के विकास का सही सोपान क्रम है : 

1. भरतेंदु युग, शुक्ल युग, द्विवेदी युग, शुक्लोत्तर युग 

2. भरतेंदु युग, द्विवेदी युग, शुक्ल युग, शुक्लोत्तर युग 

3. भरतेंदु युग, द्विवेदी युग, छायावाद, प्रगतिवाद 4. भरतेंदु युग, छायावाद, प्रगतिवाद, प्रयोगवाद 

19. ‘घीसू’ किस कहानी का पात्र है? 

1. पुरस्कार 

2. रसप्रिया 

3. गदल 

4. कफन

20. निम्नलिखित में से कौन-सा निबंधकार महावीर प्रसाद द्विवेदी युग का नहीं है ? 

1. बालकृष्ण भट्ट 

2. बालमुकुंद गुप्त 

3. पूर्ण सिंह 

4. रामचंद्र शुक्ल 

 21. ‘श्रुतौ’ में कौन-सी विभक्ति है? 

1. द्वितीया 

2. तृतीया 

3. षष्ठी 

4. सप्तमी 

22. ‘निर्विकार’ शब्ध में उपसर्ग है : 

1. निर्वि 

2. निर 

3. निः 

4. निर्

23. ‘तुलसीदास’ के रचनाकार है : 

1. सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’ 

2. सुमित्रानंदन पंत 

3. महादेवी वर्मा 

4. जयशंकर प्रसाद 

24. ‘अंग्रेज राज सुख साज सजे सब भारी । पै धन विदेश चलि जात इहै अति ब्वारी ।’ 

भरतेंदु ने किस नाटक के आरम्भ में उक्त पंक्तियाँ उल्लिखित की हैं : 

1. प्रेम जोगनी 

2. भारत दुर्दशा 

3. अंधेर नगरी 

4. वैदिकी हिंसा – हिंसा न भवति

25. विषम चरणों में 13-13 तथा समचरणों में 11-11 मात्राओं सहित कुल 24 मात्राओं वाला छंद होता है : 

1. चौपाई  

2. दोहा 

3. सोरठा 

4.  रोला 

26. निम्नलिखित में से, मैथिलीशरण गुप्त का खण्डकाव्य नहीं है : 

1. पंचवटी 

2. सिद्धराज 

3. नहुष 

4. पथिक 

27. कथा व कथाकार का कौन-सा युग्म सी नहीं है ?

1. खेल-जैनेन्द्र 

2. नशा-प्रेमचंद 

3. ग्राम-जयशंकर प्रसाद 

4. इस्तीफ़ा-पांडेय बेचन शर्मा उग्र 

28. मेधाकर बहुगुणा द्वारा रचित कृति है : 

1. रामायण प्रदीपम 

2. महावीर चरितम 

3. गंगाशतकम 

4. अजेय भारतम 

29. गंगापुत्रावदानम के रचयिता हैं : 

1. डॉ. निरंजन मिश्र 

2. प्रो. महावीर प्रसाद अग्रवाल 

3. डॉ. बुद्धिदेव शर्मा 

4. डॉ. सविता मोहन 

30. जिस नाटक में एक ही अंक होता है, उसे कहते हैं : 

1. डायरी 

2. आत्मकथा 

3. एकांकी 

4. रिपोर्ताज 

31. ‘कहाँ तो तय था चिरागाँ हरेक घर के लिए 

       कहाँ चिराग़ मयस्स्सर नहीं शहर के लिए’

उपर्युक्त पंक्तियों के रचयिता हैं : 

1. महादेवी वर्मा 

2. भावानी प्रसाद मिश्र 

3. त्रिलोचन 

4. दुष्यंत कुमार 

32. निम्न में से मंगलेश डबराल की रचना है : 

1.  आवाज़ भी एक जगह है 

2. भूखंड तप रहा है 

3. बोधिवृक्ष 

4. जलते हुए वन का वसंत 

33. ‘नैकु बुझाति नहीं बिरहानल, नैननि नीर नदी बहने पर।’

इस उद्धरण में अलंकार है : 

1. विभावना 

2. विशेषोक्ति 

3. अन्नव्य 

4. उत्प्रेक्षा 

34. ‘मल्लिका’ मोहन राकेश के किस नाटक की पात्र है?

1. आधे अधूरे 

2. आषाढ़ का एक दिन 

3. लहरों का राजहंस 

4. उपर्युक्त में से कोई नहीं 

35. डॉ. नगेंद्र ने प्रगतिवाद का आरम्भ काल माना है : 

1. सन् 1936 ई. को 

2. सन् 1937 ई. को 

3. सन् 1938 ई. को 

4. सन् 1939 ई. को 

36. ‘अस्मद’ शब्द का प्रथमा विभक्ति द्विवचन का रूप है : 

1. आवाम

2. अहम

3. वयम 

4. मया 

37. ‘महार्धता’ का विलोम है : 

1. शुचिता 

2. अत्यर्धता 

3. अल्पार्धाता 

4. उपर्युक्त में से कोई नहीं 

38. तुलसीदास द्वारा रचित ‘विनय पत्रिका’ की रचना किस भाषा में हुई है?

1. भोजपुरी 

2. अवधी 

3. ब्रजभाषा 

4. मैथिली 

39. किसी व्यक्ति द्वारा किसी अन्य व्यक्ति को याद करना संचार है : 

1. मौखिक संचार 

2. अंतः वैयक्तिक संचार 

3. अंतर वैयक्तिक संचार 

4. सांकेतिक संचार 

40. ‘अधखिला फूल’ के उपन्यासकार हैं : 

1. किशोरीलाल गोस्वामी 

2. बाबूगोपाल राय 

3. अयोध्यासिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’ 

4. बंकिमचन्द्र 

41. जिन पावन सों चलत तुम लोक वेद की गैल ।

      सो न पाँव या सर धरौ जल व्है जैहै मैल ।।

उक्त पंक्तियाँ हैं : 

1. कबीर की 

2. रहीम की 

3. भारतेन्दु हरिशचन्द्र की 

4. गिरिजाकुमार माथुर की 

42. ‘अपादान’ कारक के साथ विभक्ति होती है : 

1. द्वितीया 

2. तृतीया 

3. चतुर्थी 

4. पंचमी 

43. ‘उर्वशी काव्यकृति के लिए कवि ‘दिनकर’ को सम्मानित किया गया : 

1. साहित्य अकादमी पुरस्कार से  

2. ज्ञानपीठ पुरस्कार से 

3. सेकसरिया पुरस्कार से 

4. सोवियतलैंड नेहरू पुरस्कार से 

44. ‘ज़िंदगीनामा’ उपन्यास की लेखिका हैं : 

 1. गौरा पंत ‘शिवानी’ 

2. कृष्णा सोबती 

3. मन्नू भंडारी 

4. मृदुला ग़र्ग 

45. अज्ञेय की ‘नदी की द्वीप’ कविता में नदी और द्वीप क्रमश: प्रतीक हैं : 

1. कवि एवं साहित्य के 

2. प्रवाह एवं चेतना के 

3. जल एवं भूखंड 

4. समाज एवं व्यक्ति के 

46. निम्न में से ‘उन्मूलन’ शब्द का विलोम है : 

1. उन्नयन 

2. रोपण 

3. आरोपण 

4. उपर्युक्त में से कोई नहीं 

47. ‘सवैया’ किस कवि का प्रिय छंद है?

1.  रसखान 

2. रहीम 

3. सूरदास 

4. जायसी 

48. निम्नलिखित में से, प्रेमचंद की कहानी नहीं है : 

1. दुलाईवाली 

2. आत्मा राम 

3. बेटोंवाली विधवा 

4. सवासेर गेहूं 

49. ‘प्रसूतै:’ में विभक्ति तथा वचन है : 

1. प्रथमा विभक्ति बहूवचन 

2. द्वितीया विभक्ति एकवचन 

3. तृतीया विभक्ति एकवचन 

4. तृतीया विभक्ति बहुवचन 

50. निम्नलिखित में से हाथी का पर्यायवाची नहीं है : 

1. दंती 

2. कुंजर 

3. करी 

4. मही 

51. ‘शाखामृग’ पर्यायवाची है : 

1. मोर का 

2. बंदर का 

3. शेर का 

4. बिल्ली का 

52. वाक्यों में प्रयुक्त शब्दों का व्यावहारिक और अनुशासित रूप कहलाता है : 

1. अक्षर 

2. वर्ण 

3. पद 

4. शब्द 

53. विष्णु प्रभाकर द्वारा लिखित ‘आवारा मसीहा’ जीवनी है : 

1. राहुल सांकृत्यायन 

2. शरतचन्द्र चट्टोपाध्याय 

3. जयशंकर प्रसाद 

4. सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’ 

54. निम्नलिखित में से, ‘लोकमंगल की साधना का कवि’ खा  जाता है : 

1. तुलसीदास को 

2. कबीरदास को 

3. रविदास को 

4. सूरदास को 

55. देवनागरी लिपि में मूल लिपि चिन्ह हैं : 

1. 44 

2. 45 

3. 46 

4. उपर्युक्त में से कोई नहीं 

56. रूपक अलंकार के भेद हैं : 

1. तीन 

2. चार 

3. पाँच 

4. उपर्युक्त में से कोई नहीं 

57. निम्न में से, जैनेंद्र कुमार की कहानी नहीं है : 

1. खेल 

2. पाजेब 

3. नीलम देश की राजकन्या 

4. रात्रि की महक 

58. आधुनिक हिन्दी कविता की महत्वपूर्ण कविता मानी जाने वाली ‘रामदास’ के रचयिता थे : 

1. रघुवीर सहाय 

2. शिवमंग्ल सिंह ‘सुमन’ 

3. नागार्जुन 

4. कुँवर नारायण 

59. ‘श्री कृष्णस्य दौत्यम’ महान नाटककार भास द्वारा रचित किस नाटक से संकलित है? 

1. कर्णभारम 

2. दूतवाक्यम 

3. प्रतिमानाटकम 

4. बालचरितम 

60. ‘कल्लोलिनी’ का अर्थ है : 

1. चाँदनी 

2. रात्रि 

3. धरती 

4. नदी 

61. ‘नैतादृशा:’ का सन्धि विच्छेद है : 

1. न + एतादृशा: 

2. ने + एतादृशा

3. नत + एतादृशा: 

4. नैत + दृशा:  

62. नरेश मेहता कृत ‘संशय की एक रात में किसके मन की संशय को चित्रित किया गया है? 1. राम 

2. सीता 

3. रावण 

4. विभीषण 

63. शेखर जोशी ने अपने लेख ‘गलता लोहा’ में किस सामाजिक मुद्दे का वर्णन किया है ? 

1. शैक्षिक पिछड़ापन 

2. अंधविश्वास 

3. बेरोजगारी 

4. जातीय विभाजन 

64. निम्नलिखित में से कौन-से दो वर्ण ‘अयोगवाह’ कहलाते हैं? 

1. अ, आ 

2. अं, ऋ

3. आ, अ : 

4. अं, अः

65. ‘माया महाठगनी हम जानी’ किस भक्त कवि का कथन है ? 

1. सूरदास 

2. कबीरदास 

3. नाभादास 

4. कुंभनदास 

66. शान्त रस का स्थायी भाव है : 

1. हास 

2. जुगुप्सा 

3. निर्वेद 

4. विस्मय 

67. किस कवि की भावनात्मक और विचारात्मक ऊर्जा अनेकानेक कल्पना – चित्रों और फैंटेसियों का आकार ग्रहण करती है? 

1. निराला 

2. पंत 

3. नागार्जुन 

4. मुक्तिबोध

68. नाटक में दृश्य दिखाने या दृश्य परिवर्तन के लिए जो पर्दा काम में लाया जाता है, उसे कहते हैं : 

1. यवनिका 

2. नेपथ्य 

3. पटाक्षेप 

4. उपर्युक्त में से कोई नहीं 

69. ‘शनै : शनै : ‘ शब्द है : 

1. तत्सम 

2. तद्भव 

3. देशज 

4. आगत 

70. संचारी भाव कितने प्रकार के होते हैं? 

1. तैंतीस 

2. सैंतीस 

3. पैंतीस 

4. चौंतीस

Uttarakhand LT Hindi Previous Paper 2018

Leave a Comment

error: Content is protected !!