NET JRF Hindi Solved Paper June 2011 – नेट जेआरएफ़ हिन्दी हल प्रश्नपत्र

NET JRF Hindi Solved Paper June 2011 – नेट जेआरएफ़ हिन्दी हल प्रश्नपत्र

निर्देश : इस प्रश्नपत्र में पचास (50) बहु-विकल्पीय प्रश्न है। प्रत्येक प्रश्न के दो (2) अंक है। सभी प्रश्नों के उत्तर दीजिए। 

1. महाप्रभु वल्लभाचार्य के शिष्यों का वृतान्त इस ग्रंथ में है – 

(1) दो सौ बावन वैष्णवन की वार्ता 

(2) भक्तमाल 

(3) चौरासी वैष्णवन की वार्ता 

(4) वचनामृत 

उत्तर (3) 

2. ‘काशी में हम प्रगट भए रामानन्द चेताये।’ किसकी पंक्ति है? 

(1) कबीर 

(2) तुलसी 

(3) सूर 

(4) रैदास 

उत्तर (1) 

3. ‘रासो’ शब्द की उत्पत्ति ‘रसायण’ से किसने मानी है? 

(1) गार्सा-द-तासी 

(2) प. रामनारायण दूगड 

(3) रामचन्द्र शुक्ल 

(4) प. हरप्रसाद शास्त्री 

उत्तर (3) 

4. लक्षण ग्रन्थ का अर्थ है? 

(1) नायिका भेद 

(2) काव्यांग विवेचन 

(3) रस निष्पत्ति 

(4) गुण-दोष 

उत्तर (2) 

5. निम्नलिखित कवियों में रीतिसिद्ध कौन हैं? 

(1) बिहारी 

(2) मतिराम 

(3) घनानन्द 

(4) तोष 

उत्तर (1) 

6. ‘अनुमितिवाद’ के प्रतिष्ठाता कौन हैं? 

(1) भरतमुनि 

(2) शंकुक 

(3) आनन्दवर्धन 

(4) अभिनव गुप्त 

उत्तर (2) 

7. ‘किंशुक कुसुम जानकर झपटा भौंरा शुक की लाल चोंच पर ! 

   तोते ने निज ठोर चलाई जामुन का फल उसे सोचकर ।।’ 

में कौन सा अलंकार हैं? 

(1) संदेह 

(2) अन्योक्ति 

(3) स्वाभावोक्ति 

(4) भ्रांतिमान 

उत्तर (4) 

8. ‘काव्यालंकार’ के रचयिता हैं? 

(1) भरत 

(2) कुन्तक 

(3) भामह 

(4) दण्डी 

उत्तर (3) 

9. निम्नलिखित में से कौन भारोपीय परिवार की भाषा नहीं है? 

(1) मराठी 

(2) गुजराती  

(3) मलयालम 

(4) हिन्दी 

उत्तर (3) 

10. ब्रजभाषा कहाँ बोली जाती है? 

(1) इलाहाबाद 

(2) मथुरा-वृन्दावन 

(3) ओरछा एवं झाँसी 

(4) बनारस 

उत्तर (2) 

11. ‘विश्वनज की अर्चना में नहीं बाधक था इस व्यष्टि का अभिमान’ किसकी पंक्ति हैं? 

(1) भारतभूषण अग्रवाल 

(2) अज्ञेय 

(3) नेमीचन्द्र जैन 

(4) त्रिलोचन 

उत्तर (3) 

12. ‘मतवाला’ के सम्पादक कौन थे? 

(1) भारतेन्दु हरिश्चंद्र 

(2) धर्मवीर भारती 

(3) निराला 

(4) शिवपूजन सहाय 

उत्तर (3) 

13. ‘साखी’ किसका संकलन हैं? 

(1) शमशेर बहादुर सिंह 

(2) कीर्ति चौधरी 

(3) हरिनारायण व्यास 

(4) विजयदेव नारायण साही 

उत्तर (4) 

14. ‘जीवन-विवेक ही साहित्य विवेक है’ किसका कथन हैं? 

(1) रामविलास शर्मा 

(2) हजारी प्रसाद द्विवेदी  

(3) मुक्तिबोध 

(4) अज्ञेय 

उत्तर (2) 

15. निम्नलिखित में से कौन प्रगतिशील आलोचक नहीं हैं? 

(1) प्रकाशचन्द्र गुप्त 

(2) नन्ददुलारे वाजपेयी 

(3) शिवदान सिंह चौहान 

(4) रामविलास शर्मा 

उत्तर (2) 

16. ‘आल्मा कबूतरी’ किसकी रचना हैं? 

(1) मृदुला गर्ग 

(2) गीतांजलि श्री 

(3) मैत्रयी पुष्पा 

(4) चित्रा मुद्गल 

उत्तर (3) 

17. ‘विलोम’ किस नाटक का पात्र है? 

(1) चन्द्रगुप्त  

(2) अंधायुग  

(3) कोमल गांधार  

(4) आषाढ़ का एक दिन 

उत्तर (4) 

18. हिन्दी भाषा की उत्पत्ति हुयी है? 

(1) वैदिक संस्कृत 

(2) लौकिक संस्कृत 

(3) शौरसेनी अपभ्रंश 

(4) प्राकृत  

उत्तर (3) 

19. निम्नलिखित में से कौन-सी कृति आत्मकथा है? 

(1) कलम का सिपाही 

(2) चीड़ों पर चाँदनी  

(3) अर्द्धकथानक 

(4) बाणभट्ट की आत्मकथा 

उत्तर (3) 

20. ‘छितवनं की छाँह’ निबन्ध संग्रह के रचयिता कौन हैं? 

(1) बालकृष्ण भट्ट  

(2) हरिशंकर परसाई 

(3) विद्यानिवास मिश्र  

(4) हजारी प्रसाद द्विवेदी 

उत्तर (3( 

21. कालक्रम के अनुसार चतुरसेन शास्त्री के उपन्यासों का सही अनुक्रम कौन सा है? 

(1) हृदय की परख, हृदय की प्यास, अमर अभिलाषा, आत्मदाह 

(2) आत्मदाह, अमर अभिलाषा, हृदय की प्यास, हृदय की परख 

(3) हृदय की प्यास, आत्मदाह, हृदय की परख, अमर अभिलाषा 

(4) अमर अभिलाषा, हृदय की परख, आत्मदाह, हृदय की प्यास 

उत्तर (1) 

22. काल खण्ड की दृष्टि से कहानियों का सही अनुक्रम लिखिए – 

(1) कफन, ग्राम, पाल गोमरा का स्कूटर, डिप्टी कलेक्टरी 

(2) ग्राम, कफन, डिप्टी कलेक्टरी, पाल गोमरा का स्कूटर  

(3) पाल गोमरा का स्कूटर, डिप्टी कलेक्टरी, कफन,ग्राम  

(4) डिप्टी कलेक्टरी, पाल गोमरा का स्कूटर, ग्राम, कफन 

उत्तर (2) 

23.निम्नलिखित नाटकों का सही अनुक्रम कौन-सा है ? 

(1) राज्यश्री, खजुराहो का शिल्पी, कोणार्क, भारत दुर्दशा 

(2) कोणार्क, भारत दुर्दशा, राज्यश्री, खजुराहों का शिल्पी 

(3) खजुराहों का शिल्पी, कोणार्क, राज्यश्री, भारत दुर्दशा 

(4) भारत दुर्दशा, राज्यश्री, कोणार्क, खजुराहों का शिल्पी 

उत्तर (4) 

24. कालक्रमानुसार ग्रंथों का सही अनुक्रम है 

(1) काव्य प्रकाश, दशरूपक, काव्यालंकारसूत्रवृत्ति, नाट्यशास्त्र 

(2) नाट्यशास्त्र, काव्यालंकारसूत्रवृत्ति दशरूपक, काव्य प्रकाश

(3) काव्यालंकारसूत्रवृत्ति, नाट्यशास्त्र, काव्य प्रकाश, दशरूपक 

(4) दशरूपक, काव्यप्रकाश, काव्यालंकारसूत्रवृत्ति, नाट्यशास्त्र 

उत्तर (2) 

25. प्रकाशनकाल के अनुसार निम्नलिखित यात्रा वर्णनों का सही अनुक्रम बताइयेः 

(1) अरे यायावर रहेगा याद, देश विदेश, तंत्रलोक से यंत्रलोक तक, हँसते निर्झर दहकती भट्टी 

(2) हँसते निर्झर दहकती भट्टी, देश विदेश, अरे यायावर रहेगा याद, तंत्रलोक से यंत्रलोक तक 

(3) देश विदेश, तंत्रलोक से यंत्रलोक तक, हँसते निर्झर दहकती भट्टी, अरे यायावर याद रहेगा  

(4) अरे यायावर याद रहेगा, देश विदेश, हँसते निर्झर दहकती भट्टी, तंत्रलोक से यंत्रलोक तक 

उत्तर (1) 

26. निम्नलिखित रचनाकारों का सहह अनुक्रम निर्धारित कीजिये । 

(1) भगवती चरण वर्मा, बच्चन, अज्ञेय, नरेन्द्र शर्मा 

(2) अज्ञेय, नरेन्द्र शर्मा, बच्चन, भगवतीचरण वर्मा 

(3) बच्चन, भगवती चरण वर्मा, नरेन्द्र शर्मा, अज्ञेय 

(4) नरेन्द्र शर्मा, अज्ञेय, बच्चन, भगवतीचरण वर्मा 

उत्तर (1) 

27. ज्ञानपीठ पुरस्कार प्राप्त रचनाकारों का सही क्रम लिखियेः 

(1) कुँवर नारायण, निर्मल वर्मा, दिनकर, अज्ञेय 

(2) अज्ञेय, दिनकर, कुँवर नारायण, निर्मल वर्मा 

(3) दिनकर, अज्ञेय, निर्मल वर्मा, कुँवर नारायण 

(4) निर्मल वर्मा, कुँवर नारायण, अज्ञेय, दिनकर 

उत्तर (3) 

28. आदिकालीन रचनाओं का सही अनुक्रम कौन-सा है – 

(1) भरतेश्वर बाहुबली रास, स्थूलिभद्र रास, नेमिनाथ रास, संगीत रत्नाकर 

(2) स्थूलिभद्र रास, नेमिनाथ रास, संगीत रत्नाकर, भरतेश्वर बाहुबली रास 

(3) नेमिनाथ रास, स्थूलिभद्र रास, भरतेश्वर बाहुबली संगीत रत्नाकर 

(4) संगीत रत्नाकर, भरतेश्वर बाहुबली रास, नेमिनाथ, स्थूलिभद्र रास 

उत्तर (1)  

29. रचनाकाल के अनुसार सही अनुक्रम लिखियेः 

(1) इन्द्रधनु रौंदे हुए थे, सीढियों पर धूप, नए इलाकों में, वाजश्रवा के बहाने 

(2) वाजश्रवा के बहाने, नए इलाके में, सीढ़ियों पर धूप, इंद्रधनु रौंदे हुये थे 

(3) नए इलाकों में, सीढ़ियों पर धूप, इन्द्रधनु रौंदे हुये थे, वाजश्रवा के बहाने 

(4) सीढ़ियां पर धूप, इंद्रधन रौंदे हुये थे, वाजश्रवा के बहाने, नए इलाके में 

उत्तर (1) 

30. काव्य-लक्षण और उनके प्रतिष्ठापकों का सुमेलन कीजिये: 

सूची-I                                         सूची-II 

(a) शब्दार्थो सहितौ काव्यम्                (i) पण्डित जगन्नाथ 

(b) शरीरं तावदिष्टार्थ व्यवच्छिन्ना पदावली   (ii) विश्वनाथ 

(c) रमणीयार्थ प्रतिपादक: शब्द: काव्यम्      (iii) कुंतक 

(d) वाक्यम् रसात्मकम् काव्यम्             (iv) दंडी 

                                      (v) भामह 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (ii)      (iii)       (v) 

(2)    (iv)       (v)     (iii)         (i) 

(3)    (v)       (iv)      (i)         (ii) 

(4)    (iii)        (iv)    (ii)          (i) 

उत्तर (3) 

31. निम्नलिखित को सुमेलित कीजिये: 

सूची-I                            सूची-II 

(a) अभिव्यजनावाद              (i) इलिएट 

(b) अंतश्चेतनावादी यथार्थवाद     (ii) वड्वर्थ 

(c) स्वच्छंदतावाद              (iii) क्रोचे  

(d) संप्रेषण                   (iv) रिचर्ड्स 

                            (v) डी. एच. लारेन्स 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (iii)      (ii)       (v) 

(2)    (v)       (ii)     (iii)         (iv) 

(3)    (iv)       (i)      (v)         (ii) 

(4)    (iii)        (v)    (ii)          (iv) 

उत्तर (4) 

32. निबन्धकार और कृतियों का सुमेलन कीजियेः 

सूची-I                              सूची-II 

(a) कुबेरनाथ राय               (i) चिंतामणि  

(b) हजारी प्रसाद द्विवेदी        (ii) प्रिया नीलकंठी 

(c) विद्यानिवास मिश्र          (iii) मेरे राम का मुकुट 

(d) रामचन्द्र शुक्ल             (iv) भीष्म को क्षमा नहीं 

                            (v) साहित्य देवता 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (iii)       (i)      (iv)       (v) 

(2)    (v)       (iv)     (iii)         (ii) 

(3)    (ii)       (iv)      (iii)         (i) 

(4)    (iv)        (v)    (ii)          (iii) 

उत्तर (3) 

33. उपन्यास और उपन्यासकारों का सुमेलन कीजिये: 

सूची-I                                सूची-II 

(a) पुनर्नवा                       (i) यशपाल 

(b) कब तक पुकारूँ                (ii) भगवतीचरण वर्मा

(c) भूले बिसरे चित्र                (iii) हजारी प्रसाद द्विवेदी 

(d) मनुष्य के रूप                 (iv) रांगेय राघव 

                               (v) अमृतलाल नागर 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (v)      (iv)       (ii) 

(2)    (ii)       (iii)     (v)         (iv) 

(3)    (iii)       (iv)      (ii)         (i) 

(4)    (iii)        (iv)    (ii)          (i) 

उत्तर (3) 

34. पत्रिकाओं तथा उनके संपादकों का सुमेलन कीजियेः 

     सूची -I                            सूची-II 

(a) वागर्थ                       (i) कमला प्रसाद  

(b) नया ज्ञानोदय                (ii) प्रयाग शुक्ल       

(c) वसुधा                      (iii) रवीन्द्र कालिया 

(d) रंग प्रसंग                   (iv) अखिलेश 

                              (v) विजय बहादुर सिंह 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (v)      (iv)       (iii) 

(2)    (v)       (iii)     (i)         (ii) 

(3)    (ii)       (i)      (iv)         (v) 

(4)    (iv)        (ii)    (iii)          (i) 

उत्तर (2) 

35. कहानीकार और उनकी कहानियों का सुमेलन कीजिये: 

सूची-I                                  सूची-II 

(a) उषा प्रियंवदा             (i) सिक्का बदल गया 

(b) मन्नू भण्डारी            (ii) परिन्दे 

(c) कृष्णा सोबती            (iii) वापसी 

(d) निर्मल वर्मा             (iv) आर्द्रा  

                         (v) अकेली 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (iii)       (v)      (i)       (ii) 

(2)     (i)         (ii)      (iii)    (iv) 

(3)    (ii)        (iii)      (iv)      (v) 

(4)    (v)        (i)    (iii)          (ii) 

उत्तर (1) 

36. पंक्तियों के साथ कवियों का सुमेलन कीजिये: 

सूची -1                                  सूची-II 

(a) जिधर अन्याय, है उधर शक्ति         (i) नागार्जुन 

(b)नारी तुम केवलश्रद्धा हो              (ii) दिनकर  

(c) बहुत दिनों तक चक्की रोई,           (iii) निराला 

चूल्हा रहा उदास 

(d) सिंहासन खाली करो कि जनता आती है  (iv) पंत  

                                     (v) प्रसाद 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (v)       (iv)      (iii)       (i) 

(2)     (i)         (ii)      (iii)       (iv) 

(3)    (iii)        (v)      (i)         (ii) 

(4)    (iv)        (v)      (ii)        (iii) 

उत्तर (3) 

37. विधा को उसकी रचना के साथ सुमेलित कीजिये: 

सूची-I                               सूची -II 

(a) कविता                 (i) पहला गिरमिटिया 

(b) कहानी                 (ii) देहान्तर 

(c) उपन्यास               (iii) अशोक के फूल  

(d) नाटक                (iv) शहादतनामा 

                        (v) अबूतर-कबूतर 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (v)       (iv)      (i)       (ii) 

(2)     (i)         (iii)      (ii)      (v) 

(3)    (iv)        (v)      (iii)       (i) 

(4)    (ii)        (iii)      (v)        (iv) 

उत्तर (1) 

38. पात्रों को उसकी कृति के साथ सुमेलित कीजिये- 

सूची -I                               सूची-II 

(a) निउनिया                  (i) नदी के द्वीप 

(b) रायसाहब                 (ii) मैला आँचल 

(c) प्रशांत                   (iii) महाभोज 

(d) रेखा                    (iv) गोदान 

                           (v)बाणभट्ट की आत्मकथा 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (ii)      (iii)       (iv) 

(2)     (v)      (iv)      (ii)        (i) 

(3)    (iv)        (ii)      (i)       (v) 

(4)    (iii)        (iv)      (i)       (v) 

उत्तर (2) 

39. नाटक को उसके पात्रों के साथ सुमेलित कीजिये: 

सूची-I                                सूची-II 

(a) चन्द्रगुप्त                       (i) विलोम 

(b) अषाढ़ का एक दिन              (ii) ओक्काक 

(c) सूर्य की अन्तिम किरण से        (iii) मेघराज आनन्द 

   सूर्य की पहली किरण तक             

(d) देहानतर                       (iv) सिंहरण 

                                 (v) पुरू 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (iv)      (iii)       (ii)

(2)     (iv)      (i)      (ii)         (v) 

(3)    (ii)        (iv)      (v)       (ii) 

(4)    (ii)        (v)      (iv)       (iii) 

उत्तर (2) 

40. स्थापना (Assertion) (A) : आन्तरिक संवेद्य-भावों की रसाग्रही अभिव्यक्ति कविता है। 

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि कविता लोकरंजन से जुड़ी हुई है 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) सही 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) गलत 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (4) 

41. स्थापना (Assertion) (A) : दण्ड कोप का ही एक विधान है। 

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि दण्ड में कोप शमन होता है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) सही 

(4) (A) गलत (R) गलत 

उत्तर (2) 

42. स्थापना (Assertion) (A) : श्रद्धा का मूलतत्व है, दूसरे का महत्व स्वीकारना  

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि स्वार्थियों और अभिमानियों के हृदय में श्रद्धा टिक सकती है। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) सही 

(3) (A) सही (R) सही 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (4) 

43. स्थापना (Assertion) (A) : सबसे मधुर या रसमयी वाग्धारा वही है जो करुण प्रसंग लेकर चले 

तर्क (Reason) (R) : कविता में करुण प्रसंग अनिवार्य है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) गलत (R) सही 

(4) (A) सही (R) सही 

उत्तर (1) 

44. स्थापना (Assertion) (A) : प्रेमचन्द ने साहित्य में मनुष्य के स्वत्व का अन्वेषण किया है। 

तर्क (Reason) : (R) प्रेमचन्द की रचनाएँ कल्पनाश्रित हैं। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) सही 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) गलत 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (4) 

45. स्थापना (Assertion) (A) कबीर क्रान्तिवादी कवि हैं। 

तर्क (Reason) (R) : वीर और ओज उनकी कविता के मुख्य स्वर हैं। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) सही 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (3) 

निर्देश: निम्नलिखित अवतरण को ध्यानपूर्वक पढ़ें और उससे सम्बन्धित प्रश्नों (प्रश्न संख्या 46 से 50 तक) के उत्तरों के दिये गये बहुविकल्पो में से सही विकल्प का चयन करें। 

कलियुग सब युगों से अच्छा है, क्योंकि इसमे मानस- पाप का कुछ फल नहीं होता, किन्तु मानस-पुण्य का पूरा फल मिलता है। राम का नाम राम से भी बड़ा है, भय की कोई जरूरत नहीं है। योग ने गृहस्थ को जरूरत से ज्यादा संशयालु बना दिया था, भक्ति ने पूरा आशावादी। एक ने मुक्ति को महँगा सौदा बता दिया, दूसरे ने बहुत सस्ता । योग में गलदश्रु भावुकता का कोई स्थान नहीं। जो भक्ति पद पद पर भक्त को कंप, आवेध, जड़ता और रोमोद्गम की अवस्था ले आ देती है वह इस क्षेत्र में अपरिचित थी और यदि सचमुच ही भाग और विभाग कल्पित हैं, कल्प-विकल्प बेकार हैं, संसार मृग-मरीचिका है, परम तत्व विभाग और अविभाग से परे है, सूक्ष्म और स्थूल के अतीत है यदि वे एक रस है, समरस है तो फिर रोने से होता क्या है? 

46. कलियुग सब युगों से अच्छा है? 

(1) क्योंकि इसमें पाप और पुण्य समान है। 

(2) इसमें मानस पाप का फल मिलता है। 

(3) इसमे मानस पाप से मनुष्य दंडित नहीं होता। 

(4) इसमें मानस पुण्य का फल मिलता हैं। 

उत्तर (4) 

47. भक्ति ने मुक्ति को क्यों सस्ता बना दिया है? 

(1) भक्ति साधना कठिन नहीं है। 

(2) भक्त की दृष्टि में मुक्ति का कोई महत्व नहीं है। 

(3) भक्ति ईश्वरीय प्रेम के कारण सुलभ है। 

(4) भक्ति में योग के समान कृच्छ साधना नहीं है। 

उत्तर (2) 

48. योग गलदश्रु भावुकता को क्यों स्थान नहीं है? 

(1) योग साधना कठोर साधना है। 

(2) योग में भावना को स्थान नहीं है। 

(3) योग की पद्धिति में ज्ञान की शुष्कता है। 

(4) योग गृहस्थ के लिये के लिये दुष्कर है। 

उत्तर (2) 

49. योग और भक्ति ने गृहस्थ को किस रूप में प्रभावित किया है? 

(1) गृहस्थ के लिये योग साधना कठिन है। 

(2) भक्ति में सरसता है, योग में दुष्करता है। 

(3) भक्ति एक सस्ता सौदा है, योग मँहगा । 

(4) गृहस्थ के लिये भक्ति आकर्षक है, योग में दुष्करता है। 

उत्तर (2) 

50. परम तत्व क्या है? 

(1) वह अखण्ड चैतन्य स्वरूप हैं। 

(2) वह विभाग- अविभाग से परे है। 

(3) वह गुणहीन-आकारहीन है। 

(4) वह मायातीत है। 

उत्तर (2)

Leave a Comment

error: Content is protected !!