NET JRF Hindi Solved Paper June 2010 – नेट जेआरएफ़ हिन्दी हल प्रश्नपत्र

NET JRF Hindi Solved Paper June 2010 – नेट जेआरएफ़ हिन्दी हल प्रश्नपत्र

निर्देश : इस प्रश्न पत्र में पचास (50) बहु-विकल्पीय प्रश्न हैं प्रत्येक प्रश्न के दो (2) अंक हैं। सभी प्रश्नों उत्तर दीजिए। 

1. अष्टछाप के कवियोंमें प्रथम नियुक्त कीर्तनकार कवि कौन थे ? 

(1) नन्ददास 

(2) कृष्णदास 

(3) सूरदास 

(4) कुम्भनदास 

उत्तर (2) 

2. जायसीकृत ‘पद्मावत’ है 

(1) पुराणकाव्य 

(2) धर्मकाव्य  

(3) रूपक काव्य 

(4) चम्पूकाव्य 

उत्तर (3( 

3. ‘बसो मेरे नैनन में नन्दलाल’-किसकी पंक्ति है ? 

(1) सूरदास 

(2) मीराबाई 

(3) नन्ददास 

(4) कृष्णदास 

उत्तर (2) 

4. अमिय हलाहल मंद भरे श्वेत श्याम रतनार। जियत मरत झुकि झुकि परत जेहि चितवत एक बार। किसकी पंक्तियाँ है ? 

(1) बिहारी 

(2) रसलीन 

(3) घनानन्द 

(4) केशवदास 

उत्तर (2) 

‘बरवै रामायण’ किसकी रचना है ? 

(1) सूरदास 

(2) तुलसीदास 

(3) नन्ददास 

(4) केशवदास 

उत्तर (2) 

6. भरतमुनि के रससूत्र में निम्नलिखित में से किसका उललेख नहीं है ? 

(1) स्थायीभाव 

(2) विभाव 

(3) अनुभाव 

(4) व्यभिचारी भाव 

उत्तर (1) 

7. ‘साधारणीकरण’ संकल्पना के उद्गाता कौन है ? 

(1) कुन्तक 

(2) वामन 

(3) अभिनव गुप्त 

(4) भट्टनायक 

उत्तर (4) 

8. शब्द की द्वयर्थी योजना से कौन-सा अलंकार होता है? 

(1) अनुप्रास 

(2) श्लेष 

(3) वक्रोक्ति 

(4) उत्प्रेक्षा 

उत्तर (3) 

9. निम्नलिखित में से कौन द्रविड़ परिवार की भाषा है? 

(1) उड़िया  

(2) बंगला 

(3) असमिया  

(4) कन्नड़ 

उत्तर (4) 

10. किस क्षेत्र की बोली को ‘काशिका’ कहा गया है ? 

(1) बैसवाड़ा 

(2) बनारस 

(3) आरा – भोजपुर 

(4) मगध 

उत्तर (2) 

11. ‘हिन्दी प्रदीप’ पत्रिका के सम्पादक कौन है ? 

(1) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र 

(2) लाल श्रीनिवास दास 

(3) बालकृष्ण भट्ट 

(4) राधाचरण गोस्वामी 

उत्तर (3) 

12. ‘तोड़ने ही होंगे मठ और गढ़ सब’ किसकी पंक्ति है? 

(1) निराला 

(2) रघुवीर सहाय  

(3) नागार्जुन 

(4) मुक्तिबोध 

उत्तर (4) 

13. ‘आवारा मसीहा’ किसकी रचना है? 

(1) विष्णु प्रभाकर 

(2) विद्यानिवास मिश्र 

(3) हरिवंशराय बच्चन 

(4) नरेन्द्र शर्मा 

उत्तर (1) 

14. पशु-पक्षियों पर लिखित महादेवी वर्मा का रेखाचित्र संकलन है : 

(1) पथ के साथी 

(2) मेरा परिवार 

(3) स्मृति की रेखाएँ 

(4) अतीत के चलचित्र 

उत्तर (2) 

15. रामचन्द्र शुक्ल की आलोचनात्मक कृति कौन-सी है? 

(1) रससिद्धान्त स्वरूप विश्लेषण 

(2) काव्यमीमांसा 

(3) रसमीमांसा 

(4) वाङ्गमय विमर्श 

उत्तर (3) 

16. मनोविश्लेषणात्मक शैली के उपन्यासकार है ? 

(1) प्रेमचन्द 

(2) रांगेय राघव 

(3) इलाचन्द्र जोशी 

(4) वृन्दावनलाल वर्मा 

उत्तर (3) 

17. ‘निउनिया’ किस उपन्यास की पात्र है ? 

(1) अनामदास का पोथा 

(2) चारुचंद्रलेख  

(3) पुनर्नवा 

(4) बाणभट्ट की आत्मकथा 

उत्तर (4) 

18. देवनागरी लिपि की उत्पत्ति किससे हुई है ? 

(1) खरोष्ठी 

(2) ब्राह्मी 

(3) पैशाची 

(4) कैथी 

उत्तर (2) 

19. ‘ठेले पर हिमालय’ किस विद्या की रचना है? 

(1) उपन्यास  

(2) यात्रा-वृत्त 

(3) कहानी 

(4) निबन्ध 

उत्तर (4) 

20. ‘वन्दे वाणी विनायकौ’ निबन्ध किस विधा की रचना है? 

(1) विद्यानिवास मिश्र 

(2) रामवृक्ष बेनीपुरी 

(3) गुलाब राय 

(4) प्रताप नारायण मिश्र 

उत्तर (2) 

21. कालक्रम की दृष्टि से प्रेमचन्द के उपन्यासों का सही अनुक्रम कौन-सा है ? 

(1) सेवासदन, कर्मभूमि, रंगभूमि, गोदान 

(2) कर्मभूमि, गोदान, सेवासदन, रंगभूमि 

(3) गोदान, कर्मभूमि, रंगभूमि, सेवासदन 

(4) रंगभूमि, कर्मभूमि, गोदान, सेवासदन 

उत्तर (3) 

22. कालखण्ड की दृष्टि से कहानियों का सही अनुक्रम लिखिए : 

(1) उसने कहा था, रानी केतकी की कहानी, तिरिछ, शरणागत 

(2) रानी केतकी की कहानी, उसने कहा था, शरणागत, तिरिछ 

(3) शरणागत, रानी केतकी की कहानी, उसने कहा था, तिरछी 

(4) तिरछी, उसने कहा था, रानी केतकी की कहानी, शरणागत 

उत्तर (2) 

23. निम्नलिखित नाटकों का सही अनुक्रम कौन-सा है? 

(1) अंधायुग, शारदीया; कोर्ट मार्शल, मादा कैक्टस 

(2) शारदीया, अंधायुग, मादा कैक्टस, कोर्ट मार्शल 

(3) मादा कैक्टस, कोर्ट मार्शल, शारदीया, अंधायुग 

(4) कोर्ट मार्शल, अंधायुग, मादा कैक्टस, शारदीया 

उत्तर (1) 

24. हजारी प्रसाद द्विवेदी के आलोचनात्मक ग्रंथों का सही अनुक्रम है : 

(1) कबीर, हिन्दी साहित्य, हिन्दी साहित्य की भूमिका, सूरसाहित्य. 

(2) सूरसाहित्य, हिन्दी साहित्य की भूमिका, कबीर, हिन्दी साहित्य 

(3) हिन्दी साहित्य, कबीर, हिन्दी साहित्य की भूमिका, सूरसाहित्य 

(4) हिन्दी साहित्य की भूमिका, सूरसाहित्य, हिन्दी साहित्य, कबीर 

उत्तर (2) 

25. प्रकाशनकाल के अनुसार रेखाचित्रों का सही अनुक्रम बताइये :

(1) माटी की मूरतें, अमिट रेखाएँ, अतीत के चलचित्र, कुछ शब्द कुछ रेखाएँ 

(2) कुछ शब्द कुछ रेखाएं, अतीत के चलचित्र, माटी की मूरतें, अमिट रेखाएं 

(3) अतीत के चलचित्र, माटी की मूरतें, अमिट रेखाएं, कुछ शब्द कुछ रेखाएं 

(4) अतीत के चलचित्र, कुछ शब्द कुछ रेखाएं, अमिट रेखाएं, माटी की मूरतें 

उत्तर (3) 

26. रचनाकाल केअनुसार पत्रिकाओं का सही अनुक्रम रेखांकित कीजिए- 

(1)हिन्दी प्रदीप, ब्राह्मण, भारतेन्दु, सदादर्श 

(2) सदादर्श, हिन्दी प्रदीप, ब्राह्मण, भारतेन्दु 

(3) भारतेन्दु, ब्राह्मण, हिन्दी प्रदीप, सदादर्श 

(4) ब्राह्मण, भारतेन्दु, हिन्दी प्रदीप, सदादर्श 

उत्तर (2) 

27. निराला की रचनाओं का सही अनुक्रम है : 

(1) अनामिका, परमिल, गीतिका, कुकुरमुत्ता 

(2) कुकुरमुत्ता, गीतिका, परमिल, अनामिका 

(3) परिमल, गीतिका, कुकुरमुत्ता, अनामिका 

(4) गीतिका, कुकुरमुत्ता, अनामिका, परमिल 

उत्तर (1) 

28. ‘कामायनी’ के सर्गो का सही अनुक्रम है : 

(1) चिंता, काम, आशा, श्रद्धा 

(2) श्रद्धा, आशा, चिंता, काम 

(3) चिंता, आशा, श्रद्धा, काम 

(4) आशा, काम, श्रद्धा, चिंता 

उत्तर (3) 

29. रचनाकाल के अनुसार लंबी कविताओं का सही अनुक्रम लिखिए : 

(1) असाध्यं वीणा, पटकथा, कन्हार,प्रलय की छाया 

(2) पटकथा, असाध्य वीणा, प्रलय की छाया, कन्हार 

(3) प्रलय की छाया, असाध्य वीणा, पटकथा, कन्हार 

(4) कन्हार, असाध्य वीणा, पटकथा, प्रलय की छाया 

उत्तर (3) 

30. आचार्यों को उनके सिद्धान्तों के साथ सुमेलित कीजिए: 

सूची-I                                सूची-II 

(a) भट्ट लोल्लट            (i) अभिव्यक्तिवाद 

(b) शंकुक                  (ii) उत्पत्तिवाद 

(c) भट्ट नाटक             (iii) अस्तित्ववाद 

(d) अभिनव गुप्त           (iv) अनुमितिवाद 

                         (v) भुक्तिवाद 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (ii)      (iv)       (iii) 

(2)    (iii)       (iv)     (i)         (v) 

(3)    (iii)       (i)      (v)         (ii) 

(4)    (ii)        (iv)    (v)          (i) 

उत्तर (4) 

31. निम्नलिखित ग्रंथकार और उनके ग्रंथों का सुमेलन कीजिए : 

सूची-I                                सूची-II 

(a) इलियट                   (i) पेरइप्सुस 

(b) वर्ड्सवर्थ                 (ii) पोरिपोइतिकेस 

(c) लोंगिनुसण              (iii) लिरिकल बैल 

(d) अरस्तु                    (iv) रिपब्लिक 

                                     (v) दि वेस्ट लैंड 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (ii)      (iii)       (iv) 

(2)    (v)       (iii )     (i)         (ii) 

(3)    (iii)       (iv)      (i)         (v) 

(4)    (iv)        (i)      (ii)          (iii) 

उत्तर (2) 

32. निम्नलिखित रचनाकारों के साथ उनकी रचनाओं का सुमेलन कीजिए: 

सूची-I                                                            सूची-II 

(a) अज्ञेय                          (i) विकल्पहीन नहीं है दुनिया 

(b) किशन पटनायाक      (ii) स्त्रीत्व का मानचित्र 

(c) केदारनाथ सिंह           (iii) शब्द और मनुष्य 

(d) अनामिका                  (iv) संवत्सर 

                                          (v) कब्रस्तान में पंचायत 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (iv)       (i)      (v)       (ii) 

(2)    (i)         (iii)     (v)       (ii) 

(3)    (ii)         (v)      (iv)     (iii) 

(4)    (i)          (v)      (iii)      (ii) 

उत्तर (1) 

33. कवियों को उनके कृतियों के साथ सुमेलित कीजिए – 

सूची-I                                         सूची-II 

(a) केदारनाथ सिंह               (i) अग्निलीक 

(b) ज्ञानेंद्र पति                    (ii) आत्मजयी 

(c) भारतभूषण अग्रवाल     (iii) निर्वाचित कविताएं  

(d) कुंवर नारायण              (iv) अकाल में सारस 

                                           (v) संशयात्मा 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (iv)       (v)      (i)       (ii) 

(2)    (ii)       (iii)      (v)         (iv) 

(3)    (iii)       (i)      (iv)         (v) 

(4)    (v)        (iv)    (i)          (ii) 

उत्तर (1) 

34. सम्पादकों को उनकी पत्रिकाओं के साथ सुमेलित कीजिए : 

सूची-I                                    सूची-II 

(a) अखिलेश                    (i) पूर्वग्रह

(b) नमिता सिंह              (ii) वर्तमान साहित्य 

(c) राजेन्द्र कुमार            (iii) तद्भव 

(d) प्रभाकर श्रोत्रिय         (iv) चनद्रधर शर्मा गुलेरी 

                                        (v) समयान्तर  

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (v)       (iv)      (ii)       (iii) 

(2)    (ii)       (iii)      (i)         (iv) 

(3)    (v)       (i)      (iv)         (ii) 

(4)    (iii)        (ii)    (iv)          (i) 

उत्तर (4) 

35. कहानी और कहानीकारों का सुमेलन कीजिये – 

सूची-I                         सूची – II  

(a) सद्गति                  (i) प्रसाद 

(b) बिसाती               (ii) जैनेन्द्र 

(c) दो बाँके              (iii) प्रेमचन्द 

(d) पाजेब                (iv) चनद्रधर शर्मा गुलेरी 

                               (v) भगवतीचरण वर्मा 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (ii)      (iii)       (iv) 

(2)    (iv)       (v)      (ii)         (iii) 

(3)    (ii)       (iii)      (iv)         (v) 

(4)    (iii)        (i)    (v)          (ii) 

उत्तर (4) 

36.पंक्तियों के साथ कवियों का सुमेलन कीजिए 

सूची-I                                             सूची -II 

(a) सेस महेश गनेस दिनेस             (i) सूरदास 

(b) मन लेत पै देत छटाँक नहीं        (ii) तुलसीदास 

(c) जैसे उड़ि जहाज को पंछी             (iii) घनानन्द 

(d) गिरा अनयन नयन बिनु पानी    (iv)रसखान 

                                                         (v) केशवदास  

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (ii)      (v)         (iii) 

(2)    (iv)       (iii)      (i)         (ii) 

(3)    (iv)       (v)      (ii)         (i) 

(4)    (iii)      (iv)      (i)          (v) 

उत्तर (2) 

37. रचना के साथ उसकी विधा को सुमेलित कीजिए : 

सूची -I                                        सूची -II 

(a) शब्द और मनुष्य            (i) नाटक 

(b) काशी और अस्सी          (ii) यात्रा-वर्णन 

(c) इला                               (iii) उपन्यास 

(d) पैरों में पंख बाँधकर       (iv) आलोचना 

                                            (v) निबन्ध 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (ii)      (iv)       (v) 

(2)    (iv)       (iii)      (i)         (ii) 

(3)    (ii)       (iii)      (v)         (iv) 

(4)    (v)        (iv)    (ii)          (iii) 

उत्तर (2) 

38. उपन्यासों का उनके पात्रों के साथ सुमेलन कीजिए 

सूची- I                                 सूची-II 

(a) रंगभूमि                      (i) मृणाल 

(b) झूठा-सच                   (ii) नीलिमा 

(c) त्यागपत्र                     (iii) योके 

(d) अंधेरे बंद कमरे           (iv) तारा 

                                      (v) सोफिया 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (i)       (iii)      (iv)       (v) 

(2)    (iv)       (ii)      (v)       (iii) 

(3)    (v)       (iv)      (i)         (ii) 

(4)    (iii)      (v)      (ii)        (iv) 

उत्तर (3) 

39. पात्रों को नाटकों के साथ सुमेलित कीजिए : 

सूची-I                                सूची-II 

(a) देवसेना               (i) कोणर्क 

(b) विशु                  (ii) आधे अधूरे 

(c) गांधारी              (iii) स्कंदगुप्त 

(d) सावित्री             (iv) रातरानी 

                             (v) अंधायुग 

कोड : 

          (a)       (b)      (c)       (d) 

(1)     (iii)       (i)      (v)       (ii) 

(2)    (v)       (ii)      (i)       (iii) 

(3)    (ii)       (v)      (iii)      (iv) 

(4)    (v)      (iv)      (iii)       (i) 

उत्तर (1) 

40. स्थापना (Assertion) (A) : सही शब्द वे ही हैं, जो उनके बीच के अंतराल का सबसे अधिक उपयोग करें। 

तर्क (Reason) (R) : अंतराल के उस मौन द्वारा ही अर्थवत्ता का पूरा ऐश्वर्य सम्प्रेषित कर सके। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) ग़लत (R) सही 

(4) (A) गलत (R) गलत 

उत्तर (2) 

41. स्थापना (Assertion) (A) : भरतमुनि ने अद्भुत को दिव्य तथा आनन्दज बताया है। 

तर्क (Reason) (R) : उनकी दृष्टि अलंकारों तक गई थी।

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) सही (R) सही 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (1) 

42. स्थापना (Assertion) (A) : गुण मुख्य रूप से रस के धर्म है। 

तर्क (Reason) (R) : इन्हें गौण रूप से शब्दार्थ के भी धर्म नहीं माना जाता है। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) सही (R) गलत 

(3) (A) सही (R) सही 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (2) 

43. स्थापना (Assertion) (A) : कवियों और दार्शनिकों की दृष्टि में विश्व भावमय है। 

तर्क. (Reason) (R) : इसी कारण जीवन की ठोस वास्तविकताओं से पलायन की वृत्ति पनपी है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) सही 

(2) (A)गलत (R) सही 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (3) 

44. स्थापना (Assertion) (A) : प्रेम जब व्यष्टि सौंदर्य से ऊपर उठता है तब वह आध्यात्मिक बनता है। 

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि प्रेम आध्यात्मिक होता है। 

विकल्प: 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (1) 

45. स्थापना (Assertion) (A) : काव्य का सत्य असाधारण होता है। 

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि वह सामान्य सत्य से मिलता है। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) सही 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (4) 

निर्देश : (प्रश्न संख्या 46 से 50 तक): निम्नलिखित अवतरण को ध्यानपूर्वक पढ़े और उससे सम्बन्धित प्रश्नों के उत्तरों के दिये गये बहुविकल्पों में से सही विकल्प का चयन करें। 

भाषा पर कबीर का जबरदस्त अधिकार था। वे वाणी के डिक्टेटर थे। जिस बात को उन्होंने जिस रूप में प्रकट करना चाहा है उसे उसी रूप में भाषा से कहलवा लिया बन गया है तो सीधे-सीधे, नही तो दरेरा देकर। भाषा कुछ कबीर के सामने लाचार-सी नजर आती है। उसमें मानों ऐसी हिम्मत ही नहीं है कि इस लापरवाह फक्कड़ की किसी फरमाइश को नाहीं कर सकें, और अकह कहानी को रूप देकर मनोग्राही बना देने की तो जैसी ताकत कबीर की भाषा में है वैसी बहुत कम लेखकों में पाई जाती है। 

46. कबीर की वाणी के विषय में क्या कहा गया है ? 

(1) कबीर वाणी के महापण्डित थे। 

(2) कबीर वाणी के धनी थे। 

(3) कबीर वाणी के डिक्टेटर थे। 

(4) कबीर वाणी के लोकनायक थे। 

उत्तर (3) 

47. कबीर के सामने भाषा का रूप कैसा था? 

(1) भाषा का परिष्कृत रूप सामने आता है। 

(2) भाषा लाचार-सी नजर आती है। 

(3) भाषा पर उसका नियन्त्रण नहीं है। 

(4) भाषा में बिखराव दृष्टिगत होता है। 

उत्तर (2) 

48. कबीर की भाषा में कैसी हिम्मत नहीं है? 

(1) कि वह आशय को व्यक्त न कर सके। 

(2) कि वह इस फक्कड़ की फरमाइश को नाहीं कर सके। 

(3) कि वह कबीर के काव्यानुरूप प्रयुक्त न हो। 

(4) कि वह सहज, सरल और सरस न बन सके। 

उत्तर (2) 

49. कबीर की भाषा में कैसी ताकत थी ? 

(1) असत्य को सत्य सिद्ध कर दे। 

(2) अकह कहानी को मनोग्राही बना दे। 

(3) दुरूह दर्शन को भी स्पष्ट कर दे। 

(4) सहज को भी असहज बना दे। 

उत्तर (2) 

(50) कबीर ने बात को किस रूप में प्रकट करना चाहा? 

(1) उसे उसी रूप में भाषा से कहलवा लिया। 

(2) उसी रूप में भाषा से प्रकट नहीं कर सकते। 

(3) परोक्ष रूप से व्यक्त कर देते थे। 

(4) अधिक दुरूह बना देते थे। 

उत्तर (1)

Leave a Comment

error: Content is protected !!