NET JRF Hindi Solved Paper June 2008

NET JRF Hindi Solved Paper June 2008

निर्देश: इस प्रश्न पत्र में पचास (50) बहु-विकल्पीय प्रश्न हैं प्रत्येक प्रश्न के दो (2) अंक हैं। सभी प्रश्नों के उत्तर दीजिए। 

1. पाणिनी ने किस ग्रन्थ के द्वारा भाषा को एकरूपता देने का प्रयास किया ? 

(1) महाभाष्य 

(2) योगवशिष्ठ 

(3) वृहस्पति नीतिसार 

(4) अष्टाध्यायी 

उत्तर (4) 

हिन्दी साहित्य के इतिहास के प्रथम लेखक कौन है? 

(1) जार्ज ग्रियर्सन 

(2) शिवसिंह सेंगर 

(3) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल 

(4) गार्सा द तॉसी 

उत्तर (4) 

3. आदिकालीन साहित्यमें वीर रस की रचनाओं में किस भाषा का प्रयोग किया गया है? 

(1) पिंगल 

(2) डिंगल 

(3) बुन्देली 

(4) प्राकृत 

उत्तर (2) 

4. ‘साहित्य लहरी’ की विषयवस्तु क्या है? 

(1) अवतार लीला 

(2) नीति 

(3) नायिका भेद 

(4) निर्गुण का खण्डन 

उत्तर (3) 

5. आचार्य रामचन्द्र शुक्ल ने प्रेमाख्यान काव्य परम्परा का प्रथम कवि किसे माना है? 

(1) जायसी 

(2) मंझन 

(3) मुल्ला दाऊद 

(4) कुतुबुन 

उत्तर (4) 

6. ‘जे हाल मिसकी मुकुन जगाफुल दुराय नैना, बनाय बतियाँ।’ पंक्ति किसकी है? 

(1) अमीर खुसरो 

(2) चंदरबरदाई 

(3) मुल्ला दाऊद 

(4) रसलीन 

उत्तर (1) 

7. इनमें से कौन पश्चिमी हिन्दी की बोली नहीं है? 

(1) कौरवी 

(2) बुन्देली 

(3) मारवाड़ी 

(4) कन्नौजी 

उत्तर (3) 

8. शब्द रचना में किसका योगदान नहीं होता? 

(1) प्रत्यय 

(2) पद 

(3) धातु 

(4) उपसर्ग 

उत्तर (2) 

9. निम्नलिखित में से किस शब्द में रूप साधक प्रत्यय है? 

(1) बचपन 

(2) मातृत्व 

(3) लड़के 

(4) एकता 

उत्तर (3) 

10. प्रसिद्ध साहित्यिक पत्रिका ‘कल्पना’ कहाँ से प्रकाशित होती थी? 

(1) कोलकाता 

(2) त्रिवेन्द्रम 

(3) मुम्बई 

(4) हैदराबाद 

उत्तर (4) 

11. ‘रांवरे रूप की रीति अनूप, नयो नयो लागत ज्यों’ ज्यों निहारिये’ 

(1) बोधा 

(2) ठाकुर 

(3) घनानन्द 

(4) देव 

उत्तर (3) 

12. ‘केसव कहि न जाइ का कहिए। देखत सब रचना विचित्र अति, समुझि मनाहि मन रहिए’ किस कवि की पंक्ति है? 

(1) केशवदास 

(2) सूरदास 

(3) तुलसीदास 

(4) नन्ददास 

उत्तर (3) 

13. निम्नलिखित में से कौन मिश्रबन्धु नहीं है? 

(1) शुकदेव बिहारी मिश्र 

(2) कृष्ण बिहारी मिश्र 

(3) श्यामबिहारी मिश्र 

(4) गणेश बिहारी मिश्र 

उत्तर (2) 

14. इनमें से ‘नयी कहानी’ आन्दोलन के साथ कौन कहानीकार नहीं जुड़ा था? 

(1) मोहन राकेश 

(2) ज्ञानरंजन 

(3) राजेन्द्र यादव 

(4) कमलेश्वर 

उत्तर (2) 

15. इनमें से ‘गगौली’ गाँव किस उपन्यास के केन्द्र में है? 

(1) अलग अलग वैतरणी 

(2) आधा गाँव 

(3) जल टूटता हुआ 

(4) परतीः परकथा 

उत्तर (2) 

16. ‘कोर्ट मार्शल’ नाटक समाज की किस समस्या पर आधारित है? 

(1) जातिवाद 

(2) युद्ध की समस्या 

(3) नारी शोषण 

(4) सांप्रदायिकता 

उत्तर (1) 

17. विजय देव नारायण साही की कवितायें किस सप्तक में संग्रहित हैं? 

(1) तीसरा सप्तक 

(2) तार सप्तक 

(3) चौथा सप्तक 

(4) दूसरा सप्तक 

उत्तर (1) 

18. इसमें से कौन-सा उपन्यास विभाजन समस्या पर आधारित नहीं है? 

(1) आधा गाँव 

(2) सूखा बरगद 

(3) आखिरी कलाम 

(4) झूठा सच 

उत्तर (3) 

19. ‘छायावाद का पतन’ किसका ग्रंथ है? 

(1) नामवर सिंह 

(2) डॉ. देवराज 

(3) विजयदेवनारायण साही 

(4) देवराज उपाध्याय 

उत्तर (2) 

20. ‘ठेले पर हिमालय’ किसकी रचना है? 

(1) धर्मवीर भारती 

(2) निर्मल वर्मा 

(3) शरद जोशी 

(4) अज्ञेय 

उत्तर (1) 

निर्देश: प्रश्न संख्या 21 से 27 तक दी गयी स्थापनाओं तर्कों को ध्यानपूर्वक पढ़ें और और बहुविकल्पीय उत्तरों में से सही उत्तर का चयन करें। 

21. स्थापना (Assertion) (A) : जैसे वीर कर्म से पृथक वीरत्व कोइ पदार्थ नहीं, वैसे ही सुन्दर वस्तु से पृथक सौन्दर्य कोई पदार्थ नहीं । 

तर्क (Reason) (R) : सौन्दर्य मनोगत नहीं होता,वस्तुगत होता है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) सही (R) सही 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (3) 

22. स्थापना (Assertion) (A) : नारी का आकर्षण पुरुष को पुरुष बनाता है, और उसका अपकर्षण उसे गौतम बुद्ध बना देता है। 

तर्क (Reason) (R) : गौतम के वैराग्य में यशोधराके प्रति अपकर्षण नहीं, बल्कि बुद्धत्व प्राप्ति के लिये उनका संकल्प कारणभूत था। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) सही 

(3) (A) सही (R) सही 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (1) 

23. स्थापना (Assertion) (A) : भक्ति और प्रेम दोनों में समर्पण का तत्व समान है। 

तर्क (Reason) (R) : भक्ति और प्रेम स्व के परितयाग से सम्भव है। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) सही 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) सही (R) सही

उत्तर (4) 

24. स्थापना (Assertion) (A) : रहिमन पानी राखिए, बिन पानी सब सून, पानी गए न ऊबरै, मोती मानुस चून। 

तर्क (Reason) (R) : धन बल और सत्ता बल के आगे पानीदार मनुष्य भी असमर्थ और निरीह है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) गलत (R) सही 

(4) (A) गलत (R) गलत 

उत्तर (1) 

25. स्थापना (Assertion) (A) : काव्य में भावपक्ष कलापक्ष दोनों असंपृक्त हैं। 

तर्क (Reason) (R) : रचना में भाषा और संवेदना परस्पर आश्रित हैं। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) सही 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (2) 

26. स्थापना (Assertion) (A) : प्रेम गली अति साँकरी, तामे द्वे न समाय । 

तर्क (Reason) (R) : प्रेम मनुष्य को सीमित कर देता है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) सही 

(2) (A) गलत (R) सही 

(3) (A) गलत (R) गलत 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (1) 

27. स्थापना (Assertion) (A) जो ज्ञान मानवता को पीस डाले, वह ज्ञान नहीं कोल्हू है। 

तर्क (Reason) (R) : सच्चा ज्ञान मनुष्यता को उन्नत करता है, उसे नष्ट नहीं करता। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) सही 

(4) (A) गलत (R) गलत 

उत्तर (2) 

28. निम्नलिखित में से कौन-सा युग्म संगत है? 

(a) रस विमर्श      (i) रामचन्द्र शुक्ल 

(b) रस मिमांसा    (ii) राममूर्ति त्रिपाठी 

(c) रस सिद्धान्त   (iii) आनन्द प्रकाश दीक्षित 

(d) रस रंजन      (iv) महावीर प्रसाद द्विवेदी 

उत्तर (D) 

29. निम्नलिखित में से कौन-सा युग्म असंगत है? 

(a) बरवै रामायण        (i) तुलसीदास 

(b) बरवै नायिका भेद    (ii) रहीम 

(c) कृष्ण गीतावली      (iii) सूरदास 

(d) विज्ञान गीता        (iv) केशवदास 

उत्तर (C) 

30. निम्नलिखित में से कौन-सा युग्म असंगत है? 

(a) माधवी                  (i) दूधनाथ सिंह 

(b) द्रौपदी                  (ii) सुरेन्द्र वर्मा 

(c) उत्तरप्रियदर्शी             (iii) अज्ञेय 

(d) एक और अजनबी        (iv) मृदुला गर्ग 

उत्तर (A) 

31. प्रकाशन काल की दृष्टि से कौन-सा अनुक्रम सही है? 

(1) माँ, श्यामास्वप्न, सती मैया का चौरा, सोनामाटी 

(2) सत्तती मैया का चौरा, सोनामाटी, माँ,श्यामास्वप्न 

(3) श्यामास्वप्न, माँ, सत्ती मैया का चौरा, सोनामाटी 

(4) सोनामाटी, सत्ती मैया का चौरा, श्यामास्वप्न, माँ 

उत्तर (3) 

32. कालक्रम की दृष्टि से निम्नलिखित कहानियों का सही अनुक्रम क्या है? 

(1) ममता, गूंगे, सुखमय जीवन, जिंदगी और जोंक 

(2) सुखमय जीवन, ममता, गूँगे, जिंदगी और जोंक 

(3) जिंदगी और जोंक, सुखमय जीवन, ममता, गूँगे 

(4) गूंगे, ममता, जिंदगी और जोंक, सुखमय जीवन 

उत्तर (2) 

33. कालक्रम की दृष्टि से पत्रिकाओं का सही अनुक्रम क्या है? 

(1) सरस्वती, श्री शारदा, आनंद कादम्बिनी, प्रतीक 

(2) श्री शारदा,प्रतीक, आनंद कादम्बिनी, सरस्वती 

(3) सरस्वती, श्री शारदा, प्रतीक, आनंद कादम्बिनी 

(4) आनंद कादम्बिनी, सरस्वती, श्री शारदा, प्रतीक 

उत्तर (4) 

34.निम्नलिखित काव्य संग्रहो के प्रकाशन का सही अनुक्रम क्या है? 

(1) गुंजन, पल्लव, वीणा, ग्रंथि 

(2) पल्लव, वीणा, ग्रंथि, गुंजन 

(3) ग्रंथि, वीणा, पल्लव, गुंजन 

(4) वीणा, ग्रंथि, गुंजन, पल्लव 

उत्तर (3) 

35. कालक्रम की दृष्टि से यशपाल के निम्नलिखित उपन्यासों का सही अनुक्रम क्या है? 

(1) दादा कामरेड, देशद्रोही, दिव्या, झूठा सच 

(2) झूठा सच, देशद्रोही, दिव्या, दादा कामरेड 

(3) देशद्रोह, दिव्या, दादा कामरेड, झूठा सच 

(4) दिव्या, दादा कामरेड, झूठा सच, देशद्रोही 

उत्तर (1) 

36. कालक्रम की दृष्टि से निबन्ध संग्रह का सहीअनुक्रम क्या है? 

(1) कल्पलता, श्रृंखला की कडियाँ, शिवशभु के चिट्ठे, रसज्ञ रंजन 

(2) शिवशंभु के चिट्ठे, कल्पलता, श्रृंखला की कड़ियाँ, रसज्ञ रंजन 

(3) शिवशंभु के चिट्ठे, रसज्ञ रंजन, श्रृंखला की कड़ियाँ, कल्पलता 

(4) रसज्ञ रंजन, श्रृंखला की कड़ियाँ, कल्पलता,शिवशंभु के चिट्ठे 

उत्तर (3) 

37. कालक्रम की दृष्टि से अज्ञेय, के निम्नलिखित काव्य संग्रहों का सही अनुक्रम क्या है? 

(1) कितनी नावों पर कितनी बार, इत्यलम्, सागर मुद्रा, हरी घास पर क्षण भर 

(2) सागर मुद्रा, कितनी नावों पर कितनी बार, हरी घास पर क्षण भर, इत्यलम् 

(3) हरी घास पर क्षण भर, कितनी नावों में कितनी नावों में कितनी बार, सागर मुद्रा, इत्यलम् 

(4) इत्यलयम्, हरी घास पर क्षण भर, कितनी नावों पर कितनी बार, सागर मुद्रा 

उत्तर (4) 

38. निम्नलिखित काव्य पंक्तियों को उनकी भाषा के साथ सुमेलित कीजिये। 

सूची-I                                         सूची-II

(a) जसुमति हरि पालने झुलावै        (i) डिंगल 

(b) तेहि अवसर एक तापस आवा।   (ii) दखनी 

तेजपुंज लघु बयस सुहावा ।।  

(c) अतिरंग स्वामी सूँ मिलि रति      (iii) ब्रज 

बेटी राजा भोज की ।। 

(d) दखन है नगीना अगूँठी है          (iv) मैथिली  

जग अँगूठी कूँ हरकत नगीना 

                                               (v) अवधी 

कोड : 

          (a)      (b)    (c)     (d) 

(1)     (iii)      (v)    (i)     (ii) 

(2)     (iv)     (iii)    (ii)    (i) 

(3)     (iii)      (iv)    (i)    (ii) 

(4)    (ii)      (iii)     (v)    (i) 

उत्तर (1) 

39. निम्नलिखित क्रिया रचना को उनके सही भाषा रूप से सुमेलित कीजिये । 

सूची-I                        सूची -II 

(a) अयेउ               (i) अवधी 

(b) अइल              (ii) ब्रज 

(c) आवा              (iii) अपभ्रंश 

(d) आयो              (iv) पालि 

                            (v) भोजपुरी 

कोड : 

          (a)      (b)      (c)      (d) 

(1)     (i)        (ii)      (iv)     (iii) 

(2)     (iii)      (v)       (i)      (ii) 

(3)     (iv)      (iii)      (ii)     (i) 

(4)     (ii)       (iii)      (i)     (v) 

उत्तर (2) 

40. निम्नलिखित काव्य ग्रंथों को उनके रचनाकारों के साथ सुमेलित कीजिये। 

सूची-I                       सूची -II 

(a) सतरंगिणी         (i) निराला 

(b) सतरंगे पखों     (ii) केदारनाथ मिश्र  

(c) अणिमा           (iii) बच्चन  

(d) ऋतंबरा          (iv) नागार्जुन 

                           (v) बालकृष्ण शर्मा ‘नवीन’ 

कोड : 

         (a)     (b)     (c)    (d) 

(1)    (i)      (ii)     (iii)   (iv) 

(2)   (iii)    (iv)    (i)     (ii) 

(3)   (v)     (ii)    (iv)    (i) 

(4)    (ii)    (v)    (iii)    (i) 

उत्तर (2) 

41. निम्नलिखित पंक्तियों को उनके सही अलंकारों के  साथ सुमेलित कीजिये। 

सूची-I                                                         सूची-II 

(a) मुख नहीं चन्द्रमा है                              (i) संदेह 

(b) मुख तो चन्द्र ही है                               (ii) अपह्नुति 

(c) मुख को देखकर चाँद का आभास हुआ      (iii) रूपक 

(d) मुख है कि चाँद ?                               (iv) भ्रन्तिमान 

                                                          (v) उत्प्रेक्षा 

कोड : 

          (a)   (b)    (d)    (e) 

(1)     (v)     (i)    (iv)    (iii) 

(2)     (iii)    (v)   (ii)     (iv) 

(3)     (ii)     (iii)   (iv)   (i) 

(4)    (i)      (v)     (ii)   (iii) 

उत्तर (3) 

42. इन उपन्यासों को उनक लेखकों के साथ सुमेलित कीजिये- 

सूची-I                                    सूची-II 

(a) तमस                 (i) धर्मवीर भारती 

(b) पीली आँधी        (ii) मोहन राकेश 

(c) अँधेरे बंद कमरे   (iii) शिवप्रसाद सिंह 

(d) नीला चाँद          (iv)भीष्म साहनी 

                              (v) प्रभा खेतान 

कोड : 

          (a)   (b)    (d)    (e) 

(1)     (iv)     (v)    (ii)    (iii) 

(2)     (v)    (i)   (iii)       (ii) 

(3)     (i)     (iii)   (v)     (iv) 

(4)    (ii)      (i)     (iii)    (v) 

उत्तर (1) 

43. निम्नलिखित पंक्तियों को उनके सही कवियों साथ सुमेलित कीजिये- 

सूची-I                                                                  सूची -II 

(a) द्रुत झरो जगत के जीर्ण पत्र ।                    (i) धूमिल  

(b) यह तीसरा आदमी कौन है? 

      मेरे देश की संसद मौन है                           (ii) दिनकर 

(c) तोड़ने ही होंगे मठ और गढ़ सब                 (iii) पंत 

(d) आ गये प्रिंयवद! केशकम्बली! गुफा गेह   (iv) अज्ञेय 

                                                                        (v) मुक्तिबोध 

कोड : 

          (a)     (b)    (c)      (d) 

(1)     (ii)     (v)    (i)     (iv) 

(2)    (iii)    (i)     (iv)     (ii) 

(3)    (v)     (ii)    (iii)    (i) 

(4)   (iii)    (i)     (v)     (iv) 

 उत्तर (4) 

44. निम्नलिखित शब्दों को उनके संधि के नाम के साथ के नाम के साथ सुमेलित कीजिये – 

सूची -I                           सूची -II 

(a) निरोग                (i) दीर्घ संधि 

(b) दीर्घाकार           (ii) गुण संधि 

(c) सदाचार            (iii) विसर्ग संधि 

(d) प्रत्येक              (iv) वृद्धि संधि (v) व्यंजन 

कोड : 

          (a)     (b)    (c)      (d) 

(1)     (ii)     (iii)    (v)     (i) 

(2)    (iii)    (i)     (v)     (iv) 

(3)    (i)     (ii)    (iii)    (iv) 

(4)   (iv)    (ii)     (i)    (iii) 

उत्तर (2) 

45.निम्नलिखित काव्य लक्षणों को उनके आचार्यो के सही नामों के साथ सुमेलित कीजिये- 

सूची-I                                                        सूची-II 

 (a) शब्दार्थों सहितौ काव्यम                   (i) विश्वनाथ 

(b) तददौषौं शब्दार्थो सगुणा वनलंकृत     (ii) भामह 

(c) वाक्यं रसात्मकं काव्यम्                     (iii)पंडित जगन्नाथ 

(d) रमणीयार्थ प्रतिपादकः शब्दःकाव्यम् (iv) मम्मट 

                                                                  (v) आनंदवर्धन 

कोड : 

          (a)       (b)       (c)       (d) 

(1)     (v)       (i)        (iv)      (ii) 

(2)     (iv)     (iii)      (ii)       (i) 

(3)    (ii)      (iv)      (i)       (iii) 

(4)    (iii)      (ii)      (v)     (iv) 

उत्तर (4) 

निर्देशः (प्रश्न संख्या 46 से 50 तक) निम्नलिखित गद्य अवतरण को ध्यानपूर्वक पढ़ें और उससे सम्बन्धित प्रश्नों के उत्तरो को दिये गये बहुविकल्पों में से सही विकल्प का चयन करें।लोक में फैली दुख की छाया को हटाने में ब्रह्म कीआनंदकला, जो शक्तिमय रूप धारण करती है,उसकी भीषणता में भी अद्भुत मनोहरता, कटुता में भी अपूर्व मधुरता, प्रचंडता में भी गहरी आर्द्रता साथ नगी रहती है। विरूद्धो का यही सामंजस्य कर्मक्षेत्र का सौन्दर्य है, जिसकी ओर आकर्षित हुये बिना मनुष्य का हृदय नहीं रह सकता। इस सामंजस्य का और कई रूपों में भी दर्शन होता है। किसी कोट,पतलून, हैट वाले को धराप्रवाह संस्कृत बोलते अथवा किसी पंडित वेशधारी सज्जन को अंग्रेजी में प्रगल्भ वक्तृता देते सुन व्यक्तित्व का जो एक चमत्कार सा दिखाई पड़ता है, उसकी तह में भी सामंजस्य का यही सौदर्न्य समझना चाहिये। भीषणता और सरसता, कोमलता और कठोरता, कटुता और मधुरता, प्रचंडता और मृदुला का सामंजस्य ही लोकधर्म का सौन्दर्य है। आदिकवि वाल्मीकि की वाणी इसी सौन्दर्य के उद्घाटनमहोत्सव का दिव्य संगीत है। सौन्दर्य का यह उद्घाटन असौन्दर्य का आवरण हटाकर होता है। धर्म और मंगल की ज्योति अधर्म और अमंगल की घटा को फाड़ती हुई फूटती है। इससे कवि हमारे सामने असौन्दर्य, अमंगल, अत्याचार, क्लेश इत्यादि भी रखता है, रोष, हाहाकार, और ध्वंस का दृश्य भी लाता है। पर सारे भाव सारे रूप और सारे व्यापार भीतर भीतर आनन्दकला के विकास में ही योग देते पाये जाते हैं। यदि किसी ओर उन्मुख ज्वलंत रोष है, तो उसके और सब ओर करूण दृष्टि फैली दिखाई पड़ती है। यदि किसी ओर ध्वंस और हाहाकार है, तो सब ओर उसका सहगामी रक्षा और कल्याण है। व्यास ने भी अपने “जयकाव्य” में अधर्म के पराभव और धर्म की जय का सौन्दर्य प्रत्यक्ष किया। 

46. कर्मक्षेत्र का सौन्दर्य किसमें है? 

(1) अन्याय के प्रति रोष दिखाने में 

(2) लोगों के प्रति मृदुता के व्यवहार में 

(3) विरोधी भावों के सामंजस्य में 

(4) उपर्युक्त तीनों सही है। 

उत्तर (3) 

47. सूटधारी के संस्कृत बोलने पर क्या प्रतिक्रिया मन में उठती है? 

(1) सामंजस्य की कमी दिखाई देती है। 

(2) उसका अज्ञान प्रकट होता है। 

(3) उसका संस्कृत प्रेम मन को छू जाता है। 

(4) उसके संस्कृत उच्चारण पर हँसी आती है। 

उत्तर (3) 

48. विध्वंश और अत्याचार के सहगामी भाव क्या हो सकते है ? 

(1) भ्रष्टाचार और क्लेश 

(2) रक्षा और मंगल का भाव 

(3) अद्भुत मनोहरता का भाव 

(4) सौन्दर्य का दिव्य संगीत 

उत्तर (2) 

49. ‘आनन्दकला के विकास’ स लेखक का क्या तात्पर्य है? 

(1) जीवन में सरसता और कोमलता पैदा करना 

(2) अधर्म को अधर्म से काटना 

(3) अन्याय के प्रति रोष प्रकट करना 

(4) सारे भाव, रूप और व्यापारों में उचित सामंजस्य 

उत्तर (1) 

50. इस गद्य अवतरण के लिये उपयुक्त शीर्षक क्या है ? 

(1) विरोधों के सामंजस्य का सौन्दर्य 

(2) सौन्दर्य का उद्घाटन 

(3) व्यास का उद्घाटन 

(4) व्यक्तित्व का चमत्कार 

उत्तर (1)

Leave a Comment

error: Content is protected !!