NET JRF Hindi Solved Paper – 3 December 2013 – नेट जेआरएफ़ हल प्रश्न पत्र

NET JRF Hindi Solved Paper – 3 December 2013 – नेट जेआरएफ़ हल प्रश्न पत्र

निर्देश : इस प्रश्नपत्र में पचहत्तर (75) बहु-विकल्पीय प्रश्न है। प्रत्येक प्रश्न के दो (2) अंक है। सभी अनिवार्य है। 

1. ‘कुवलयमाला कथा’ के रचनाकार हैं – 

(1) उद्योतन सूरि 

(2) दामोदर शर्मा 

(3) मेरूतुंग 

(4) हेमचंद्र 

उत्तर (1) 

2. खुसरो की रचना ‘खालिक बारी’ वस्तुतः है – 

(1) पहेलियों का संकलन 

(2) मुकरियों का संकलन 

(3) फारसी हिन्दी शब्दकोश 

(4) मनोरंजनपरक रचना 

उत्तर (3) 

3.किस समीक्षक ने विद्यापति की पदावलियों को जीव और परमात्मा के सम्बन्ध का रूपक माना है ? 

(1) हजारी प्रसाद द्विवेदी 

(2) आनन्दकुमार स्वामी 

(3) शिवप्रसाद सिंह 

(4) रामवृक्ष बेनीपुरी 

उत्तर (2) 

4. सिंधी भाषा का विकास अपभ्रंश की किस बोली से माना गया है ? 

(1) ब्राचड़ 

(2) पैशाची 

(3) मागधी 

(4) अर्धमागधी 

उत्तर (1) 

5. इनमें से कौन सी भाषा भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूची में नहीं हैं ? 

(1) डोगरी 

(2) संथाली 

(3) बोडो 

(4) भोजपुरी 

उत्तर (4) 

6. इनमें से किस शब्द में उपसर्ग नहीं हैं ? 

(1) अपमान 

(2) अपयश 

(3) अपराध  

(4) अपमति 

उत्तर (3) 

7. ‘सबरस’ के रचनाकार है – 

(1) मुल्ला वजही 

(2) कुली कुतुबशाह 

(3) इंशा अल्ला खां 

(4) सैयद हुसैन अली खां 

उत्तर (1) 

8. फोर्ट विलियम कॉलेज की स्थापना कब हुई ? 

(1) सन् 1800 ई 

(2) सन् 1805 ई. 

(3) सन् 1857 ई. 

(4) सन् 1900 ई. 

उत्तर (1) 

9. ‘बेकसी का मजार’ उपन्यास के लेखक है – 

(1) अमृतलाल नागर 

(2) प्रतापनारायण श्रीवास्तव  

(3) चतुरसेन शास्त्री 

(4) विष्णु प्रभाकर 

उत्तर (2) 

10. ‘सरस्वती’ प्रत्रिका के प्रथम सम्पादक हैं – 

(1) महावीरप्रसाद द्विवेदी 

(2) प्रतापनारायण मिश्र 

(3) बाबू श्यामसुंदर दास 

(4) शिवप्रसाद सिंह 

उत्तर (3) 

11. काव्य-हेतुओं मे व्युत्पति का सही अर्थ है – 

(1) परिश्रम 

(2) शब्द ज्ञान 

(3) लोक ज्ञान 

(4) प्रगाढ़ पांडित्य 

उत्तर (2) 

12. इनमें से कौन मनोविश्लेषणवाद से जुड़े विचारक नहीं है? 

(1) एडलर 

(2) फ्रायड 

(3) जुंग 

(4) सार्त्र 

उत्तर (4) 

13. काव्य गुणों के प्रतिष्ठापक आचार्य हैं – 

(1) रूद्रट 

(2) दण्डी 

(3) वामन 

(4) अप्पय दीक्षित 

उत्तर (3) 

14.  “वैदग्धाभंगी भणिति’ – किसका सूत्र है ? 

(1) कुंतक 

(2) राजशेखर 

(3) भोज 

(4) पंडितराज जगन्नाथ 

उत्तर (1) 

15. हठयोग का प्रभाव निम्नलिखित कवियों में से किस पर पड़ा है ? 

(1) स्वयंभू 

(2) घाघ भडडरी  

(3) गोरखनाथ 

(4) अद्दहमाण 

उत्तर (3) 

16. आचार्य रामचंद्र शुक्ल द्वारा स्थापित सिद्धान्त नहीं है- 

(1) विसंगति बोध 

(2) लोकमंगल की साधनावस्था 

(3) विरुद्धों का सामंजस्य 

(4) हृदय की मुक्तावस्था 

उत्तर (1) 

17. इनमें से रंकलन-त्रय में किसकी गणना नहीं की जाती है ? 

(1) समय संकलन 

(2) स्थान संकलन 

(3) प्रभाव संकलन 

(4) कार्य संकलन 

उत्तर (3) 

18. ‘हिन्दी जाति की अवधारणा’ के पुरस्कर्ता कौन है ? 

(1) अज्ञेय 

(2) रामविलास शर्मा 

(3) नगेन्द्र 

(4) भगीरथ मिश्र 

उत्तर (2) 

19. ‘भाषा और संवेदना’ के लेखक हैं ? 

(1) जगदीश गुप्त 

(2) रामस्वरूप चतुर्वेदी 

(3) रमेशचंद्र शाह 

(4) विजयदेव नारायण साही 

उत्तर (2) 

20. ‘नूतन ब्रह्मचारी’ उपन्यास के रचनाकार है ? 

(1) राधाकृष्ण दास 

(2) ठाकुर जगमोहन सिंह 

(3) बालकृष्ण भट्ट 

(4) लज्जाराम मेहता 

उत्तर (3) 

21. ‘अंगद का पाँव’ के लेखक है ? 

(1) हरिशंकर परसाई 

(2) धर्मवीर भारती 

(3) शरद जोशी 

(4) श्रीलाल शुक्ल 

उत्तर (4) 

22. ‘कालीचरन’ किस उपन्यास का पत्र है ? 

(1) परती परिकथा 

(2) झूठा सच 

(3) मैला आँचल 

(4) गोदान 

उत्तर (3) 

23. इनमें से कौन सी महिला कथाकार हिन्दी की नहीं है? 

(1) कृष्णा सोबती 

(2) राजी सेठ 

(3) मधु कांकरिया 

(4) महाश्वेता देवी 

उत्तर (4) 

24. तुलसीदास की किस रचना में संत-महंतो के लक्षण वर्णित है ? 

(1) वैराग्य संदीपनी 

(2) जानकी मंगल  

(3) पार्वती मंगल 

(4) रामाज्ञा प्रश्न 

उत्तर (1) 

25. दृष्टकूट पदों की रचना किस कवि ने की है ? 

(1) कबीरदास 

(2) सूरदास 

(3) तुलसीदास 

(4) रहीम 

उत्तर (2) 

26. ‘सुखसागर’ के रचनाकार है ? 

(1) लल्लूलाल 

(2) सदल मिश्र 

(3) बाबू हरिश्चंद 

(4) मुंशी सदासुखलाल ‘नियाज’ 

उत्तर (4) 

27. ‘बालाबोधिनी’ मासिक पत्रिका के संपादक थे ? 

(1) पं. प्रतापनारायण मिश्र 

(2) पं. राधाचरण गोस्वामी  

(3) भारतेन्दु हरिश्चंद्र 

(4) ठा. जगमोहन सिंह 

उत्तर (3) 

28. ‘जयवर्द्धमान’ नाटक क लेखक कौन है ? 

(1) डॉ. रामकुमार वर्मा 

(2) उपेन्द्रनाथ अश्क 

(3) उदयशंकर भट्ट 

(4) सेठ गोविन्द दास 

उत्तर (1) 

29. ‘मुकुल’ नामक कविता-संग्रह किस रचनाकार का है-

(1) पं. नरेंद्र शर्मा 

(2) माखनलाल चतुर्वेदी 

(3) रामेश्वर शुक्ल ‘अंचल’ 

(4) सुभद्रा कुमारी चौहान 

उत्तर (4) 

30. ‘चक्कर क्लब’ के रचनाकार है ? 

(1) अमृतलाल नागर 

(2) नगेन्द्र 

(3) यशपाल 

(4) बालमुकुन्द गुप्त 

उत्तर (c) 

31. ‘चेखवः एक इटरव्यू’ किसकी रचना है – 

(1) रणवीर रांगा 

(2) पद्मसिंह शर्मा 

(3) प्रभाकर माचवे 

(4) राजेन्द्र यादव 

उत्तर (4) 

32. एही रूप सकती औं सीऊ । एही रूप-त्रिभुवन जीऊ ।। काव्य पंक्ति किस कवि की है ? 

(1) मलिक मुहम्मद जायसी 

(2) तुलसीदास 

(3) हृदयनाथ 

(4) क़ुतुबन 

उत्तर (1) 

33. “जसोदा! कहा कहाँ हौं बात ? तुम्हरे सुत के करतब मो पै कहत कहे नहिं जात।” ये किस कवि की काव्य पंक्तियाँ हैं? 

(1) सूरदास 

(2) चतुर्भुजदास  

(3) कुम्भनदास 

(4) हरिदास 

उत्तर (2) 

34. यह अभिनव मानव प्रजा सृष्टि । द्वयता में लगी निरंतर ही वर्णो की करती रहे वृष्टि ।।” 

ये काव्य-पंक्तियाँ किस कवि की है ? 

(1) जयशंकर प्रसाद 

(2) सुमित्रानन्दन पंत 

(3) महादेवी वर्मा 

(4) रामधारी सिंह ‘दिनकर’ 

उत्तर (1) 

35. कमलेश्वर द्वारा रचित कहानी नहीं है? 

(1) राजा निरबसिया 

(2) मांस का दरिया 

(3) एक और जिन्दगी 

(4) कस्बे का आदमी 

उत्तर (3) 

36. ‘मित्र संवाद’ पत्र साहित्य किनके बीच लिखे गये पत्रों का संग्रह है ? 

(1) रामविलास शर्मा-केदारनाथ अग्रवाल 

(2) नेमिचंद जैन-नागार्जुन 

(3) अमृतलाल नागर-यशपाल चौहान 

(4) हजारीप्रसाद द्विवेदी-शिवप्रसाद सिंह 

उत्तर (1) 

37. इनमें से कौन सी कृति वृन्दावनलाल वर्मा की है ? 

(1) गोदान 

(2) भुवन विक्रम 

(3) चित्रलेखा 

(4) यही सच है 

उत्तर (2) 

38. इनमें जीवनीपरक उपन्यास नहीं है- 

(1) खंजन नयन 

(2) मानस का हंस 

(3) पहला गिरमिटिया 

(4) भूले बिसरे चित्र 

उत्तर (4) 

39. कौन सा उपन्यास अधूरा नहीं है ? 

(1) मंगलसूत्र 

(2) इरावती 

(3) चोटी की पकड़ 

(4) रत्ना की बात 

उत्तर (4) 

40. ‘लगता नहीं है दिल मेरा’ आत्मकथा की लेखिका है- 

(1) कृष्णा अग्निहोत्री 

(2) मैत्रेयी पुष्पा 

(3) मन्नू भण्डारी 

(4) पद्मा सचदेव 

उत्तर (1) 

41. प्रकाशन वर्ष की दृष्टि से विद्यानिवास मिश्र के निबन्ध संग्रहों का सही अनुक्रम है : 

(1) मैंने सिल पहुँचाई, तमाल के झरोखे से, शिरीष की याद आई, तुम चन्दन हम पानी 

(2) तुम चन्दन हम पानी, मैंने सिल पहुँचाई, तमाल के झरोखे से, शिरीष की याद आई 

(3) तमाल के झरोखे से, शिरीष की याद आई, तुम चन्दन हम पानी, मैंने सिल पहुँचाई 

(4) शिरीष की याद आई, तुम चन्दन हम पानी, मैंने सिल पहुँचाई, तमाल के झरोखे से 

उत्तर (2) 

42. प्रकाशन वर्ष के आधार पर अज्ञेय के निबन्ध संग्रहों का सही अनुक्रम कौन सा है? 

(1) आत्मनेपर, अन्तरा, धार और किनारे, त्रिशंकु 

(2) अन्तरा, धार, और किनारे, त्रिशंकु, आत्मनेपद 

(3) धार और किनारे, त्रिशंकु, आत्मनेपद, अन्तरा 

(4) त्रिशंकु आत्मनेपद, अन्तरा, धार और किनारे 

उत्तर (4) 

43. प्रकाशन के अनुसार इलाचन्द्र जोशी के उपन्यासों का सही अनुक्रम है- 

(1) निर्वासित, जिप्सी, जहाज का पंछी, कवि की प्रेयसी 

(2) जिप्सी, जहाज का पंक्षी, कवि की प्रेयसी, निर्वासित 

(3) जहाज का पंक्षी, कवि की प्रेयसी, निर्वासित, जिप्सी 

(4) कवि की प्रेयसी, निर्वासित, जिप्सी, जहाज का पंछी 

उत्तर (1) 

44. प्रकाशन के अनुसार इन रचनाओं का सही अनुक्रम है- 

(1) पल्लव, लहर, नीरजा, अनामिका 

(2) लहर, नीरजा, अनामिका, पल्लव 

(3) नीरजा, अनामिका, पल्लव, लहर 

(4) अनामिका, पल्लव, लहर, नीरजा 

उत्तर (4) 

45. प्रकाशन के अनुसार इन नाटकों का सही अनुक्रम है 

(1) सूखा सरोवर, मिस्टर अभिमन्यु, कर्फ्यू, मादा कैक्टस 

(2) मिस्टर अभिमन्यू, कर्फ्यू, मादा कैक्टस, सूखा सरोवर 

(3) मादा कैक्टस, सूखा सरोवर, मिस्टर अभिमन्यु, कर्फ्यू 

(4) कर्फ्यू, मादा कैक्टस, सूखा सरोवर, मिस्टर अभिमन्यू 

उत्तर (3) 

46. प्रकाशन की दृष्टि से रामविलास शर्मा के ग्रंथों का सही अनुक्रम है- 

(1) आस्था और सौन्दर्य, भारत की भाषा समस्या, निराला की साहित्य साधना भाग-1,नयी कविता और अस्तित्ववाद 

(2) भारत की भाषा समस्या, निराला की साहित्य साधना भाग-1, नयी कविता और अस्तित्ववाद,आस्था और सौन्दर्य 

(3) निराला की साहित्य साधना भाग-1, नयी कविता और अस्तित्ववाद, आस्था और सौन्दर्य, भारत की भाषा समस्या 

(4) नयी कविता और अस्तित्ववाद, आस्था और सौन्दर्य, भारत की भाषा समस्या, निराला की साहित्य साधना भाग-1 

उत्तर (1) 

47. रचनाकाल की दृष्टि से निम्नलिखित नाट्य रचनाओं का सही अनुक्रम है- 

(1) अंधेर नगरी, ध्रुवस्वामिनी, रक्षाबन्धन, नहुष

(2) नहुष, अंधेर नगरी, धुवस्वामिनी, रक्षाबन्धन 

(3) ध्रुवस्वामिनी, रक्षाबन्धन, नहुष, अंधेर नगरी 

(4) रक्षाबन्धन, नहुषं, अन्धेर नगरी, ध्रुवस्वामिनी 

उत्तर (2) 

48. रचनाकाल दृष्टि से निम्नलिखित एकांकियों का सही अनुक्रम है- 

(1) कारवाँ, एकादशी, नदी व्यासी थी, एक घूँट 

(2) एक घूँट, कारवाँ, एकादशी, नदी प्यासी थी 

(3) एकादशी, नदी प्यासी थी, एक घूँट, कारवाँ 

(4) नदी प्यासी थी, एक घूँट, कारवाँ, एकादशी 

उत्तर (2) 

49. प्रकाशन की दृष्टि से निम्नलिखित उपन्यासों का सही अनुक्रम है- 

(1) जिन्दगीनामा, आवाँ, कुइयाँजान, बेघर  

(2) आवाँ, कुइयाँजान, बेघर, जिन्दगीनामा 

(3) कुइयाँजान, बेघर, जिन्दगीनामा, आवाँ 

(4) बेघर, जिन्दगीनामा, आवाँ, कुइयाँजान 

उत्तर (4) 

50. प्रकाशन के अनुसार वृन्दावनलाल वर्मा के उपन्यासों का सही अनुक्रम है- 

(1) कचनार, मृगनयनी, रामगढ़ की रानी, विराटा की पदमिनी 

(2) विराटा की पद्मिनी, कचनार, मृगनयनी, रामगढ़ की रानी 

(3) मृगनयनी, रामगढ की रानी, विराट की पद्मिनी, कचनार 

(4) रामगढ़ की रानी, विराट की पद्मिनी, कचनार, मृगनयनी 

उत्तर (2) 

51. प्रकाशन की दृष्टि से निम्नलिखित पत्र-पत्रिकाओं का सही अनुक्रम है- 

(1) जागरण, प्रतीक, नयी कविता, कल्पना 

(2) प्रतीक, नयी कविता, कल्पना, जागरण 

(3) नयी कविता, कल्पना, जागरण, प्रतीक 

(4) कल्पना, जागरण, प्रतीक, नयी कविता 

उत्तर (1) 

52. प्रकाशन की दृष्टि से प्रेमचंद की कहानियों का सही अनुक्रम है- 

(1) नमक का दरोगा, शतरंज के खिलाड़ी, सद्गति,रानी सारंगा 

(2) शतरंज के खिलाड़ी, सद्गति, रानी सारंगा, नमक का दरोगा 

(3) रानी सारंगा, नमक का दरोगा, शतरंज के खिलाड़ी, सद्गति 

(4) सद्गति, रानी सारंगा, नमक का दरोगा, शतरंज के खिलाड़ी 

उत्तर (3) 

53. प्रकाशन के आधार पर निम्नलिखित कृतियों का सही अनुक्रम है- 

(1) कलकत्ता से पेकिंग, चीड़ों पर चांदनी, यात्रा चक्र, मेरी तिब्बत यात्रा 

(2) चीड़ो पर चाँदनी, यात्रा चक्र, मेरी तिब्बत यात्रा, कलकत्ता से पेकिंग 

(3) यात्रा चक्र, मेरी तिब्बत यात्रा, कलकत्ता से पेकिंग, चीड़ो पर चाँदनी 

(4) मेरी तिब्बत यात्रा, कलकत्ता से पेंकिग, चीड़ों पर चाँदनी, यात्रा चक्र 

उत्तर (4) 

54. प्रकाशन के अनुसार निम्नलिखित कहानियों का सही अनुक्रम है- 

(1) डिप्टी कलक्टरी, वापसी, फैंस के इधर-उधर, गदल 

(2) गदल, डिप्टी कलक्टरी, वापसी, फैंस के इधर-उधर 

(3) वापसी, फैंस के इधर-उधर, गदल, डिप्टी कलक्टरी 

(4) फैंस के इधर-उधर, गदल, डिप्टी कलक्टरी वापसी 

उत्तर (2) 

55. निराला के निम्नलिखित निबंध संग्रहों का प्रकाशन वर्ष के आधार पर सही अनुक्रम है: 

(1) प्रबंध प्रतिमा, चाबुक, चयन, प्रबंध पद्म 

(2) चाबुक, चयन, प्रबंध पद्म, प्रबंध प्रतिमा 

(3) प्रबंध पद्म, प्रबंध प्रतिमा, चाबुक, चयन 

(4) चयन, प्रबंध पद्म, प्रबंध प्रतिमा, चाबुक 

उत्तर (3) 

56. स्थापना (Assertion) (A) : ‘ऐब्सर्डबोध’ व्यक्ति के भीतरी यथार्थ को उद्घाटित करता है, अतः यह अत्यन्त महत्त्वपूर्ण है। 

तर्क (Reason) (R) : यह आस्था और तर्क दोनों को नकारता है, अतः अधिक महत्त्वपूर्ण नहीं है। 

विकल्प : 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) सही 

(4) (A) गलत (R) गलत 

उत्तर (3) 

57. स्थापना ( Assertion ) (A) :  मार्क्सवादी सौन्दर्यशास्त्र में सर्वोपरि है- श्रम का सौन्दर्य। 

तर्क (Reason) (R) : मार्क्सवादियों के अनुसार हाथ मात्र कर्म इन्द्रिय न होकर आद्यं सर्जना शक्ति है। वही हर कला की सृष्टि करता है। अतः श्रम और सौन्दर्य परस्पर पूरक हैं। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) सही 

(3) (A) सही (R) सही 

(4) (A) गलत (R) गलत 

उत्तर (3) 

58. स्थापना (Assertion) (A) : हिन्दी काव्यशास्त्र का सर्वोच्च प्रदेय है – ‘सर्वाँग निरुपण’। 

तर्क (Reason) (R) : सर्वांग निरूपक आचार्यों ने रस, अलंकार, पिंगल आदि का निरूपण करते हुए। इसके अन्तर्गत काव्य हेतु, प्रयोजन, गुण-दोष आदि की भी चर्चा की है, जो अत्यन्त उपयोगी है। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (2) 

59. स्थापना (Assertion) (A) : अधिकतर संस्कृत आचार्य औचित्य के पोषक रहे हैं, अतः औचित्य सम्प्रदाय के स्वतंत्र अस्तित्व का औचित्य कदापि सिद्ध नहीं होता है। 

तर्क (Reason) (R) : औचित्य का आग्रह आचार्य भरत से लेकर आनंदवर्धन, महिमभट्ट आदि तक ने बहुशः किया है। सभी काव्यांशो में इसकी स्वीकृति है। आचार्य क्षेमेन्द्र ने समग्रतः इस मत को सुव्यवस्थित किया है, किन्तु एकल मत होने के  कारण इसे सम्प्रदाय कहना समीचीन नहीं लगता।

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) सही 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (1) 

60. स्थापना (Assertion) (A) : प्लेटो के अनुसार भावातिरेक अत्यन्त अनिष्टकर होता है और अरस्तू के अनुसार भावों का दमन बड़ा घातक होता है, अतः आदर्शवाद और त्रासदी दोनों सिद्धान्त सन्दिग्ध हैं। 

तर्क (Reason) (R) : प्लेटो साहित्यकार के निष्कासन पर बल देते थे और अरस्तू के निष्कासन पर बल देते थे और अरस्तू मात्र विरेचन तक उसकी उपयोगिता मानते थे, अतः दोनों सिद्धान्त अधूरे लगते हैं। 

विकल्प : 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) सही 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) सही (R) सही 

उत्तर (4) 

61. स्थापना (Assertion) (A) : ‘उत्तर संरचनावाद’ मुख्यतः पाठकेन्द्रित है और वह पाठ ‘अर्थापन’ साध्य होता है। 

तर्क (Reason) (R) : पाठ को इतना मह और “लेखक की मृत्यु” की घोषणा कर देना  सस्यूर का अतिवादी चिंतन  है, अतः यह पून:विचारणीय है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) सही 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) सही  

उत्तर (1) 

62. स्थापना (Assertion) (A) : काव्यानुभूति सदैव लोकोत्तर होती होती है। 

तर्क (Reason) (R) : कवि की अनुभूति लोक से परे होती है। इसीलिए उसे ब्रह्मनंन्द सहोदर कहा गया है। 

विकल्प : 

(1) (A) सही (R) गलत  

(2) (A) गलत (R) सही 

(3) (A) सही (R) सही 

(4) (A) गलत (R) गलत  

उत्तर (1) 

63. स्थापना (Assertion) (A) : प्रेम में प्रिय अच्छा  लगता है, साथ ही प्रेमी में यह वृत्ति हो जाती है  कि मैं भी प्रिय को अच्छा लगूँ। 

तर्क (Reason) (R) : प्रिय और प्रेमी दोनों में परस्पर अनुभूतिजन्य तादातम्य आधार के रूप में काम करता है। 

विकल्प : 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (2) 

64. स्थापना (Assertion) (A) : कविता ही हृदय को प्रकृत दशा में लाती है और जगत के बीच क्रमशः उसका अधिकाधिक प्रसार करती हुई उसे मनुष्यत्व की उच्च भूमि पर ले जाती है। 

तर्क (Reason) (R) : कविता का सम्बन्ध हृदय से न होकर मन से और वह विविध शब्दजालों के माध्यम से अभिव्यक्ति पाती है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) सही 

(2) (A) गलत (R) गलत 

(3) (A) गलत (R) सही 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (4) 

65. स्थापना (Assertion) (A) : भाव का ज्ञान से विरोध नहीं है। दोनों में प्रस्थान बिंदु अवश्य भिन्न हैं, पर दोनों का लक्ष्य बिन्दु एक ही है। 

तर्क (Reason) (R) : भाव का सम्बन्ध हृदय से है और ज्ञान का सम्बन्ध बुद्धि से, अतः दानों एक दूसरे के विरोधी हैं। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) गलत 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) सही 

उत्तर (3) 

66. निम्नलिखित कवियों को उनकी कृतियों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                        सूची-II 

(a) सत्यनारायण कविरत्न   (i) गंगालहरी 

(b) जगननाथदास रत्नाकर  (ii) वीर सतसई 

(c) रामचरित उपाध्याय    (iii) भ्रमरदूत 

(d) वियोगी हरि          (iv) देवदूत 

                       (v) वायुदूत 

विकल्प : 

       (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)     (ii)     (iii)    (i)      (iv) 

(2)    (iii)     (i)     (iv)     (ii) 

(3)    (v)     (iv)    (ii)      (i) 

(4)    (ii)     (v)     (i)      (iii) 

उत्तर (2) 

67. निम्नलिखित नाटकों के साथ उनके पात्रों को सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                     सूची-II 

(a) अंधेरी नगरी         (i) चाणक्य 

(b) कोर्ट मार्शल         (ii) सुरेखा 

(c) द्रौपदी             (iii) रामचन्दर 

(d) कौमुदी महोत्सव     (iv) नारायण दास 

                     (v) मातृगुप्त 

विकल्प : 

     (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)  (v)     (i)     (iii)      (iv) 

(2)  (ii)     (iii)    (i)       (v) 

(3)  (iv)    (iii)    (ii)      (i) 

(4)  (iii)     (ii)   (iv)      (i) 

उत्तर (3) 

68. निम्नलिखित कृतियों को उनके रचनाकारों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                        सूची-II  

(a) भरत मिलाप           (i) अग्रदास 

(b) ध्यानमंजरी            (ii) ईश्वरदास 

(c)रामायण महानाटक      (iii) लालदास 

(d) अवध विलास         (iv) प्राणचंद चौहान 

                       (v) हृदयराम  

विकल्प : 

     (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)   (ii)     (i)    (iv)      (iii) 

(2)  (v)     (ii)     (iii)     (i) 

(3)  (iii)     (v)    (i)      (ii) 

(4)  (ii)     (i)     (v)      (iii)

उत्तर (1) 

69. निम्नलिखित रचनाकारों को उनकी कृतियों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                      सूची-II 

(a) नंददास           (i) युगलशतक 

(b) श्री भट्ट          (ii) रागमाला 

(c) रसखान          (iii) प्रेमवाटिका 

(d) हरिराम व्यास     (iv) रूपमंजरी 

                    (v) रणमल्ल छंद 

विकल्प : 

     (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)  (iv)     (i)    (iii)      (ii) 

(2)  (ii)     (iii)     (iv)     (i) 

(3)  (iii)     (ii)     (i)      (iv) 

(4)  (v)     (iv)     (ii)     (iii) 

उत्तर (1) 

70. इन उक्तियों को उनके आचार्यों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                                सूची-II 

(a) शब्दार्थ शरीर ताबत् काव्यम        (i) भामह 

(b) काव्य ग्राह्यम अलंकारात          (ii) मम्मट  

(c) मुख्यार्थहतिर्दोषः                 (iii) विश्वनाथ  

(d) करोति कीर्ति प्रीति च साधु काव्य   (iv) वामन 

निबन्धनम्                   

                                 (v) दण्डी 

विकल्प : 

     (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)  (i)     (ii)    (iii)      (iv) 

(2)  (v)    (iv)    (ii)       (i) 

(3)  (ii)     (iii)   (iv)      (v) 

(4)  (v)     (iv)    (iii)     (ii) 

उत्तर (2) 

71. इन स्थापनाओं को उनके विद्वानों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                                   सूची-II 

(a) महान कवि वही हो सकता है,    (i) टी. एस. इलियट  

जो साथ में गंभीर दार्शनिक हो । 

(b) कविता व्यक्तितत्व की         (ii) कॉलरिज 

अभिव्यक्ति नहीं, उससे पलायन है। 

(c) काव्य-भाषा तथ्यात्मक नहीं,    (iii) लांजाइनस 

रागात्मक होती है। 

(d) महान व्यक्तित्व ही महान्     (iv) आई. ए. रिचर्ड्स  

विचारों से सम्पन्न होता है। 

                             (v) ड्राइडन 

विकल्प : 

     (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)  (i)     (ii)    (iii)      (iv) 

(2)  (iii)    (ii)    (iv)      (v) 

(3)  (v)     (iv)   (iii)      (i) 

(4)  (ii)     (i)    (iv)      (iii) 

उत्तर (4) 

72. निम्नलिखित उदाहरणों को उनके अलंकारों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                               सूची-II 

(a) दृग उरझत टूटत कुटुम            (i) रूपक 

जुरत चतुर चित प्रीतिपरित 

गाँठ दुरजन हिए, दई नई यह रीति। 

(b) चंचल-अंचल सा नीलाबर          (ii) उत्प्रेक्षा 

(c) खिला हो ज्यों बिजली का         (iii) असंगति 

फूल मेघ वन बीच गुलाबी रंग । 

(d) अम्बर पनघट में डुबो रही        (iv) विरोधाभास 

तारा-घट ऊषा नागरी। 

                                (v) उपमा 

विकल्प : 

     (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)  (i)     (ii)    (iii)      (iv) 

(2)  (iii)    (iv)    (ii)      (i) 

(3)  (ii)     (iii)   (iv)      (v) 

(4)  (v)     (iv)    (i)      (iii) 

उत्तर (2) 

73. निम्नलिखित पंक्तियों को उनके कवियों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                                  सूची-II 

(a) कितना अकेला हूँ मैं, इस समाज में  (i) मुक्तिबोध 

(b) पिस गया वह भीतरी औ बाहरी दो   (ii) अज्ञेय 

कठिन पाटों के बीच 

(c) वे पत्तर जोड़ रहे हैं, तुम सपने      (iii) नागार्जुन    

जोड़ रहे हो। 

(d) मैं ही वसंत का अग्रदूत           (iv) रघुवीर सहाय 

                                 (v) निराला 

विकल्प : 

     (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)  (iv)     (i)    (iii)      (v) 

(2)  (i)    (ii)    (iii)      (iv) 

(3)  (ii)     (iii)   (iv)      (v) 

(4)  (v)     (iv)    (iii)      (ii) 

उत्तर (1) 

74. निम्नलिखित कवियों को उनकी जनपदीय भाषा से सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                     सूची-II  

(a) जगदीश गुप्त        (i) बुंदेली 

(b) वंशीधर शुक्ल       (ii) राजस्थानी 

(c) ईसुरी             (iii) भोजपुरी 

(d) सूर्यमल्ल मिश्रण    (iv) अवधी 

                     (v) ब्रज 

विकल्प : 

     (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)  (i)     (ii)    (iii)      (iv) 

(2)  (iv)    (v)    (ii)      (iii) 

(3)  (iii)    (ii)    (i)       (v) 

(4) (v)     (iv)    (i)      (ii) 

उत्तर (4) 

75. इन रचनाकारों को उनके सर्वाधिक संबद्ध  जनसंचार माध्यमों से सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                   सूची-II    

(a) उदयशंकर भट्ट     (i) दूरदर्शन 

(b) इलाचन्द्र जोशी     (ii) फिल्म 

(c) मनोहरश्याम       (iii) समाचार 

(d) अज्ञेय            (iv) रेडियो 

                    (v) कम्प्यूटर इण्टरनेट 

विकल्प : 

      (a)    (b)     (c)      (d) 

(1)  (ii)     (iv)    (i)      (iii) 

(2)  (v)    (iii)     (ii)      (i) 

(3)  (iii)    (i)    (iv)      (ii) 

(4)  (iv)    (ii)    (i)      (iii) 

उत्तर (1)

Leave a Comment

error: Content is protected !!