NET JRF Hindi Solved Paper – 2 June 2014 – नेट जेआरएफ़ हिन्दी हल प्रश्न पत्र

NET JRF Hindi Solved Paper – 2 June 2014 – नेट जेआरएफ़ हिन्दी हल प्रश्न पत्र

1. अवधी का विकास किस अपभ्रंश से हुआ है? 

(1) महाराष्ट्री 

(2) शौरसेनी 

(3) अर्धमागधी 

(4) मागधी 

उत्तर (3) 

2. इनमें से किसको संविधान की अष्टम अनुसूची में सम्मिलित नहीं किया गया? 

(1) डोगरी 

(2) मैथिली 

(3) ब्रज 

(4) असमिया 

उत्तर (3) 

3. विकास की दृष्टि से प्राकृत की पूर्वकालीन अवस्था का नाम है- 

(1) पालि 

(2) संस्कृत 

(3) हिन्दी 

(4) अवहट्ठ 

उत्तर (1) 

4. गोकुल नाथ की रचना है- 

(1) पउम चरिउ 

(2) ललित विस्तार 

(3) छंदानुशासन 

(4) चौरासी वेष्णवन कीवार्ता 

उत्तर (4) 

5. ‘काव्यालंकार’ किसकी रचना है? 

(1) भामह 

(2) दण्डी 

(3) राजशेखर 

(4) रूद्रभट्ट 

उत्तर (1) 

6. इनमें से कौन सी रचना लल्लूलाल की नहीं है? 

(1) सिंहासन बत्तीसी 

(2) बैताल पच्चीसी 

(3) सुख सागर  

(4) लाल चंद्रिका 

उत्तर (3) 

7. इनमें से कौन-सा इलाचंद्र जोशी का उपन्यास है? 

(1) सुनीता 

(2) मुक्ति पथ 

(3) सुखदा 

(4) तेरी मेरी उसकी बात 

उत्तर (2) 

8. इनमें से कौन मनोविश्लेषणवादी कथाकार नहीं है? 

(1) जैनेन्द्र 

(2) चतुरसेन शास्त्री 

(3) इलाचंद्र जोशी 

(4) अज्ञेय 

उत्तर (2) 

9. भारतेन्दु हरिश्चन्द्र का नाटक है- 

(1) गोरक्ष विजय 

(2) कालिका मंगल  

(3) सरस्वती मंगल 

(4) विद्यासुन्दर 

उत्तर (4) 

10. इनमें से कौन-सा काव्य रामकथा पर आधारित है? 

(1) भूमिजा 

(2) कामायनी 

(3) नीरजा 

(4) यशोधरा 

उत्तर (1) 

11. नाटक को पंचम वेद किसने कहा? 

(1) धनंजय 

(2) भट्टनायक  

(3) भरत मुनि 

(4) भानुदत्त 

उत्तर (3) 

12. ‘आगम-वेअ-पुराणेहि,पणिअ माण वहन्ति’ पंक्ति किसकी है? 

(1) सरहपा 

(2) कण्हपा 

(3) डोबिपा 

(4) शबरपा 

उत्तर (2) 

13. खड भाषा पुराणं च / कुरानं कथितं मया । भाषा के संबंध में यह पंक्ति किस कवि की है? 

(1) जगनिक 

(2) चंदबरदाई  

(3) नरपतिनाल्ह 

(4) अब्दुल रहमान 

उत्तर (2) 

14. प्रेमचन्द के ‘सेवासदन’ उपन्यास का उर्दू शीर्षक है- 

(1) बाजारे ए हुस्न 

(2) चौगाने हस्ती 

(3) गोशा ए आफिमत 

(4) हम खुर्मा व हम सबाब  

उत्तर (1) 

15. नाक, भौँह, पेट, दाँत, मूँछ आदि विषयों के निबंधकार हैं? 

(1) भारतेन्दु 

(2) प्रतापनारायण मिश्र 

(3) बालमुकंद गुप्त 

(4) बालकृष्ण भट्ट 

उत्तर (2) 

16. जयशंकर प्रसाद का सर्वप्रथम नाटक है- 

(1) सज्जन 

(2) राज्यश्री 

(3) कामना 

(4) विशाख 

उत्तर (1) 

17. शब्दों की पद-रचना पर आधारित भाषाओं के वर्गीकरण को क्या कहा जाता है? 

(1) ऐतिहासिक वर्गीकरण 

(2) कुलात्मक वर्गीकरण 

(3) प्रभाव आधारित वर्गीकरण 

 (4) आकृतिमूलक वर्गीकरण 

उत्तर (4) 

18. ‘दूसरा दरवाजा’ किस विधा की रचना है? 

(1) उपन्यास 

(2) आत्मदाह 

(3) नाटक 

(4) गीतिनाट्य 

उत्तर (3) 

19. इनमें से कौन सी रचना आत्मकथा है? 

(1) मैं आईना हूँ 

(2) पहला पड़ाव 

(3) मेरे सात जनम 

(4) आत्मदाह 

उत्तर (3) 

20. ‘रस गंगाधर’ में पंडितराज जगन्नाथ ने किस बादशाह की प्रशंसा की है? 

(1) शाहजहाँ 

(2) अकबर 

(3) औरंगजेब 

(4) बाबर 

उत्तर (1) 

21. रचनाकाल के अनुसार भारतेन्दु के नाटकों का सही क्रम है- 

(1) नील देवी, अंधेर नगरी, भारत दुर्दशा, सती प्रताप 

(2) सती प्रताप, नील देवी, भारत दुर्दशा, अंधेर नगरी 

(3) अंधेर नगरी, भारत दुर्दशा, नील देवी, सती प्रताप 

(4) भारत दुर्दशा, नीलदेवी, अंधेर नगरी, सती प्रताप 

उत्तर (4) 

22. पंत की काव्य-रचनाओं का सही क्रम है- 

(1) गुंजन, पल्लव, ग्राम्या, युगांत 

(2) पल्लव, गुंजन, युगांत, ग्राम्या 

(3) युगांत, गुंजन, ग्राम्या, पल्लव 

(4) पल्लव, गुंजन, ग्राम्या, युगांत 

उत्तर (2) 

23. इन उपन्यासों का प्रकाशन काल के अनुसार सही क्रम है- 

(1) बूँद और समुद्र, कठगुलाब, अमृत और विष, मैला आँचल 

(2) मैला आँचल, अमृत और विष, बूँद और समुद्र, कठगुलाब 

(3) कठगुलाब, बूँद और समुद्र, अमृत और विष, मैला आँचल  

(4) मैला आँचल, बूंद और समुद्र, अमृत और विष, कठगुलाब 

उत्तर (4) 

24. पत्रिकाओं का प्रकाशन काल के अनुसार सही क्रम है- 

(1) सरस्वती, ब्राह्मण, हंस, नागरी प्रचारिणी पत्रिका  

(2) ब्राह्मण, नागरी प्रचारिणी पत्रिका, सरस्वती, हंस 

(3) नागरी प्रचारिणी प्रत्रिका, हंस, ब्राह्मण, सरस्वती 

(4) सरस्वती, नागरी प्रचारिणी पत्रिका, हंस, ब्राह्मण 

उत्तर (2) 

25. ज्ञानपीठ पुरस्कृत कृतियों का वर्षवार सही अनुक्रम है- 

(1) यामा, चिदम्बरा, उर्वशी, कितनी नावों में कितनी बार 

(2) उर्वशी, कितनी नावों में कितनी बार, चिदम्बरा, यामा 

(3) उर्वशी, चिदम्बरा, कितनी नावों में कितनी बार, यामा 

(4) कितनी नावों में कितनी बार, यामा, चिदम्बरा, उर्वशी 

उत्तर (1) 

26. रचनाकाल के अनुसार काव्यों का सही क्रम है-

(1) आँसू, कामायनी, लहर, कानन कुसुम 

(2) कानन कुसुम, आँसू, कामायनी, लहर 

(3) लहर, आँसू, कामायनी, कानन कुसुम 

(4) कानन कुसुम, आँसू, लहर, कामायनी 

उत्तर (4) 

27. जीवन काल के आधार पर कवियों का सही क्रम है- 

(1) अमीर खुसरो, विद्यापति, रैदास, नानक 

(2) नानक, विद्यापति, रैदास, अमीर खुसरो  

(3) विद्यापति, रैदास, अमीर खुसरो, नानक 

(4) विद्यापति, रैदास, नानक, अमीर खुसरो 

उत्तर (1) 

28. प्रकाशन काल की दृष्टि से प्रेमचन्द के उपन्यासों का सही अनुक्रम है- 

(1) सेवासदन, प्रतिज्ञा, वरदान, रंगभूमि  

(2) सेवासदन, वरदान, रंगभूमि, प्रतिज्ञा 

(3) रंगभूमि, वरदान, प्रतिज्ञा, सेवासदन 

(4) सेवासदन, प्रतिज्ञा, रंगभूमि, वरदान 

उत्तर (2) 

29. प्रकाशन काल की दृष्टि से भीष्म साहनी के उपन्यासों का सही क्रम है-  

(1) तसम, कड़ियाँ, नीलू नीलिमा नीलोफर, मय्यादास की माड़ी 

(2) मय्यादास की माड़ी, तसम, कड़ियाँ, नीलू नीलिमा नीलोफर 

(3) नीलू नीलिमा नीलोफर, तसम, कड़ियाँ, मय्यादास की माड़ी 

(4) कड़ियाँ, तमस, मय्यादास की माड़ी, नीलू नीलिमा नीलोफर 

उत्तर (4) 

30. प्रकाशान काल की दृष्टि से विष्णु प्रभाकर की रचनाओं का सही क्रम है- 

(1) सृजन के सेतु, यादों की तीर्थयात्रा, हमसफर मिलते रहे, अर्द्धनारीश्वर 

(2) अर्द्धनारीश्वर, सृजन के सेतु, हमसफर मिलते रहे, यादो की तीर्थयात्रा 

(3) यादों की तीर्थयात्रा, सृजन के सेतु, हमसफर मिलते रहे, अर्द्धनारीश्वर 

(4) यादों की तीर्थयात्रा, अर्द्धनारीश्वर, सृजन के सेतु, हमसफ़र मिलते रहे 

उत्तर (3) 

31.निम्नलिखित रचनाओं को उनके रचनाकारों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                                सूची-II 

(a) यारों के यार तीन पहाड़       (i) मैत्रेयी पुष्पा 

(b) बिना दीवारों का घर          (ii) मेहरून्निसा परवेज 

(c) अकेला पलाश               (iii) मन्नू भण्डारी 

(d) शेष यात्रा                  (iv) कृष्णा सोबती 

                             (v) उषा प्रियंवदा 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (iv)     (iii)      (ii)      (v) 

(2)  (i)       (iii)      (iv)     (ii) 

(3)  (ii)       (iii)     (v)      (i) 

(4)  (v)      (iv)     (iii)      (i) 

उत्तर (1) 

32. निम्नलिखित कहानीकारों को उनकी कहानियों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                              सूची-II  

(a) शिव प्रसाद          (i) एक टोकरी भर मिट्टी 

(b) यशपाल             (ii) पाजेब 

(c) जैनेन्द्र              (iii) पुलिस की सीटी 

(d) माधवराव सप्रे        (iv) दादी माँ 

                      (v) हँसा जाई अकेला     

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (iv)     (iii)      (ii)      (i) 

(2)  (i)       (ii)      (iii)     (iv) 

(3)  (v)       (iii)     (ii)      (i) 

(4)  (ii)      (ii)      (i)      (ii) 

उत्तर (1) 

33. निम्नलिखित काव्यशास्त्रीय कृतियों को उनके आचार्यों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-1                               सूची-II  

(a) भारतीय साहित्य शास्त्र         (i) हेमचन्द्र 

(b) भारतीय काव्यशास्त्र की        (ii) बलदेव उपाध्याय  

भूमिका 

(c) रस मीमांसा                 (iii) नगेन्द्र 

(d) काव्यानुशासन               (iv) रामचंद्र शुक्ल 

                              (v) अप्पय दीक्षित 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (i)      (iii)      (v)      (iv) 

(2)  (iv)    (iii)      (ii)      (v) 

(3)  (ii)     (iii)     (iv)      (i) 

(4)  (ii)      (v)      (iii)    (iv) 

उत्तर (3) 

34. निम्नलिखित पत्रिकाओं को उनके प्रकाशन-स्थान के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                            सूची-II 

(a) नागरी प्रचारिणी पत्रिका     (i) इलाहाबाद 

(b) सम्मेलन पत्रिका          (ii) जबलपुर 

(c) पहल पत्रिका             (iii) दिल्ली 

(d) नया प्रतीक              (iv) काशी 

                          (v) भोपाल 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (v)      (i)      (ii)      (iv) 

(2)  (i)      (iii)      (i)      (v) 

(3)  (iv)     (v)     (ii)      (iii) 

(4)  (iv)      (i)      (ii)     (iii) 

उत्तर (4) 

35. निम्नलिखित पात्रों को उनकी रचनाओं के साथ  सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                     सूची-II  

(a) रेखा            (i) मैला आँचल 

(b) नीलिमा         (ii) वे दिन 

(c) कमला          (iii) आवाँ

(d) रायना          (iv) नदी के द्वीप 

                  (v) अंधेर बन्द कमरे 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (i)      (v)      (ii)      (iii) 

(2)  (iii)    (ii)      (i)      (iv) 

(3)  (iv)     (v)     (i)       (ii) 

(4)  (v)      (ii)      (ii)    (iv) 

उत्तर (3) 

36. निम्नलिखित नाटकों को उनके रचनाकारों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                            सूची-II 

(a) हानूश                  (i) मुद्राराक्षस  

(b) दशरथ नंदन            (ii) भीष्म साहनी  

(c) पैर तले की जमीन      (iii) जगदीशचन्द्र माथुर 

(d) तिलचट्टा             (iv) सुरेन्द्र वर्मा 

                        (v) मोहन राकेश 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (i)     (iv)      (iii)      (v) 

(2)  (ii)    (iii)      (v)       (i) 

(3)  (iv)    (iii)     (ii)       (i) 

(4)  (v)      (ii)      (i)     (iv) 

उत्तर (2) 

37. निम्नलिखित सम्प्रदायों को उनके अनुयायियों साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                              सूची-II  

(a) वल्लभ सम्प्रदाय          (i) हरिव्यास देव 

(b) निम्बार्क सम्प्रदाय        (ii) दामोदर दास 

(c) राधावल्लभ सम्प्रदाय     (iii) गदाधर भट्ट  

(d) चैतन्य सम्प्रदाय        (iv) जगन्नाथ गोस्वामी 

                         (v) गोविन्द स्वामी 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (v)      (i)      (ii)      (iii) 

(2)  (iv)    (i)      (iii)      (v) 

(3)  (ii)     (i)       (v)     (iv) 

(4)  (v)      (iv)      (ii)    (iii) 

उत्तर (1) 

38. निम्नलिखित रचनाओं को उनकी विधाओं के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                            सूची-II  

(a) प्रेत की छाया               (i) नाटक 

(b) कर्बला                    (ii) निबंध 

(c) छितवन की छाँह           (iii) आत्मकथा 

(d) अन्या से अनन्या          (iv) उपन्यास 

                           (v) एकांकी 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (iv)    (ii)      (i)      (v) 

(2)  (iv)    (i)      (ii)      (iii) 

(3)  (v)     (iii)    (ii)       (i) 

(4)  (i)      (v)      (iii)    (iv) 

उत्तर (2) 

39. निम्नलिखित संस्थओं को उनके संस्थापकों के साथ सुमेलित कीजिए- 

सूची-I                             सूची-II 

(a) ब्रह्म समाज            (i) एनी बेसेंट  

(b) प्रार्थना समाज          (ii) विवेकानंद  

(c) आर्य समाज           (iii) दयानंद सरस्वती  

(d) रामकृष्ण मिशन       (iv) राजा राममोहन राय 

                       (v) केशवचंद्र सेन 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (ii)      (i)      (iv)      (v) 

(2)  (v)     (ii)      (iv)       (i) 

(3)  (i)      (iii)      (ii)      (v) 

(4)  (iv)    (v)      (iii)     (ii) 

उत्तर (4) 

40. निम्नलिखित पंक्तिओं को उनके कवियों के साथ सुमेलित कीजिये- 

सूची-I                                  सूची-II 

(a) जो बीत गयी सो बात गयी          (i) मुक्तिबोध 

(b) मैं तो डूब गया था स्वयं शून्य में    (ii) दिनकर  

(c) दो घाटों के बीच पिस गया         (iii) बच्चन  

(d) रूप की आराधना का मार्ग         (iv) अज्ञेय  

आलिंगन नहीं तो और क्या है? 

                                 (v) नरेंद्र शर्मा 

विकल्प : 

       (a)     (b)      (c)      (d) 

(1)  (v)      (i)      (ii)      (iv) 

(2)  (iv)    (ii)      (iii)      (v) 

(3)  (iii)     (v)      (iv)     (ii) 

(4)  (iii)      (iv)      (i)     (ii) 

उत्तर (4) 

41. स्थापना (Assertion) (A) : मनुष्य की श्रेष्ठ साधन ही संस्कृति है। 

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि साधनाओं के माध्यम से मनुष्य अविरोधी-सत्य तक पहुँच सका है। 

विकल्पः 

(1) (A) गलत (R) सही 

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) गलत 

उत्तर (2) 

42. स्थापना (Assertion) (A) : रस का निर्णायक सहृदय है। 

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि सहृदय रस का समीक्षक होता है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) गलत 

(2) (A) गलत (R) सही 

(3) (A) गलत (R) गलत 

(4) (A) सही (R) सही 

उत्तर (1) 

43. स्थापना (Assertion) (A) : अंतर्मुखी प्रवृत्ति के व्यक्ति की मानसिक उलझनों की सफल अभिव्यक्ति ‘एकालाप’ के रूप में होती है। 

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि एकालाप साहित्यकार की मनोरूग्णता का द्योतक है।

(1) (A) गलत (R) सही  

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) गलत 

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (4) 

44. स्थापना (Assertion) (A) : युग जीवन के परिवेश में साहित्य की विकास परम्परा का निरूपण करना ही साहित्य के इतिहास का कर्तव्य-कर्म है। 

तर्क (Reason) (R) क्योंकि साहित्य का इतिहासकार युग जीवन के परिवेश से इतर होता है। 

विकल्पः 

(1) (A) सही (R) सही 

(2) (A) गलत (R) सही 

(3) (A) सही (R) गलत 

(4) (A) गलत (R) गलत 

उत्तर (3) 

45. स्थापना (Assertion) (A) : साहित्य में वस्तु और रूप एक दूसरे से अभिन्न और परस्पर अनुस्यूत होते हैं। 

तर्क (Reason) (R) : क्योंकि साहित्य में वस्तु और रूप की सत्ता एक दूसरे पर निर्भर है। 

(1) (A) गलत (R) गलत  

(2) (A) सही (R) सही 

(3) (A) गलत (R) सही  

(4) (A) सही (R) गलत 

उत्तर (2) 

निर्देशः निम्नलिखित अवतरण को ध्यानपूर्वक पढ़े और उससे संबंधित प्रश्नों ( प्रश्न संख्या 46 से 50 ) के दिये गये बहुविकल्पों में से सही विकल्प का चयन करें- 

शासन की पहुँच प्रवृत्ति और निवृति की बाहरी व्यवस्था तक ही होती है। उनके मूल या मर्म तक उनकी गति नहीं होती है। भीतरी या सच्ची प्रवृति-निवृति को जागरित रखने वाली शक्ति.कविता है जो धर्मक्षेत्र में शक्ति भावना को जागती है। भक्ति धर्म की रसात्मक अनुभूति है। अपने मंगल और लोक के मंगल का संगम उसी के भीतर दिखाई पड़ता है। इस संगम के लिए प्रकृति के क्षेत्र के बीच मनुष्य को अपने हृदय के प्रसार का अभ्यास करना चाहिए। जिस प्रकार ज्ञान नरसत्ता के प्रसार के लिए है उसी प्रकार हृदय भी। रागात्मिका वृत्ति के प्रसार के बिना विश्व के साथ जीवन का प्रकृत सामंजस्य घटित नहीं हो सकता। जब मनुष्य के सुख और आनंद का मेल शेष प्रकृति के सुख-सौदर्य के साथ हो जायेगा, जब उसकी रक्षा का भाव, तृणगुल्म, वृक्ष-लता, पशु-पक्षी कीट-पतंग, सब की रक्षा के भाव के साथ समन्वित हो जायेगा, तब उसके अवतार का उद्देश्य पूर्ण हो जायेगा और जगत् का सच्चा प्रतिनिधि हो जायेगा। 

46. स्व और लोक दोनों के मंगल का मिलन-बिंदु किसके भीतर है? 

(1) भक्ति 

(2) ज्ञान 

(3) योग 

(4) कर्म 

उत्तर (1) 

47, नरसत्ता के प्रसार के लिए उपयुक्त है- 

(1) ज्ञान-हृदय 

(2) ज्ञान  

(3) हृदय  

(4) कर्म 

उत्तर (1) 

48. जीवन का सामंजस्य विश्व के साथ स्थापित करने के लिए आवश्यक है। 

(1) प्रकृति 

(2) ज्ञानात्मिका वृत्ति 

(3) वैराग्य 

(4) रागात्मिका वृत्ति 

उत्तर (4) 

49. सच्ची प्रवृत्ति-निवृत्ति जागृत रखने की शक्ति किसमें होती है? 

(1) कविता 

(2) विज्ञान 

(3) दर्शन 

(4) समाजशास्त्र 

उत्तर (1) 

50. मनुष्य के अवतार का उद्देश्य कब पूर्ण कहा जायेगा? 

(1) सिर्फ मनुष्य सामज के साथ सामंजस्य स्थापित होने से। 

(2) मनुष्य समाज का शेष प्रकृति के साथ सामंजस्य स्थापित होने से। 

(3) पशु-पक्षियों के साथ सामंजस्य सामंजस्य स्थापित होने से। 

(4) वृक्ष-लता के साथ सामंजस्य स्थापित होने से। 

उत्तर (2)

Leave a Comment

error: Content is protected !!