Kavyashastra Question Answer काव्यशास्त्र प्रश्न – अभ्यास – 2

1. काव्यशास्त्र के अनुसार, शब्द में अर्थ कितने प्रकार से आता है? 

(A) तीन 

(B) पाँच 

(C) चार 

(D) छः 

उत्तर (A) 

2. अर्थ का बोध कराने वाले व्यापार को ‘शब्द शक्ति’ किसने कहा? 

(A) भामाह ने 

(B) कुंतक ने 

(C) विश्वनाथ ने 

(D) आनंदवर्धन ने 

उत्तर (C) 

3. ‘शब्द शक्ति’ का एक अन्य नाम है- 

(A) ध्वनि 

(B) रीति 

(C) वृत्ति 

(D) रस 

उत्तर (C) 

4. शब्द शक्ति के लिए आचार्य मम्मट ने किस शब्द का प्रयोग किया? 

(A) आभास 

(B) व्यापार 

(C) वाणी 

(D) प्रतीति 

उत्तर  (B) 

5. ‘शब्द शक्ति’ के मूलतः कितने भेद हैं? 

(A) दो 

(B) तीन 

(C) चार 

(D) पाँच 

उत्तर (B) 

6. अविधा में प्रयुक्त शब्द को कहते हैं- 

(A) वाचक 

(B) संकर 

(C) देशज 

(D) अनुकरनणात्मक 

उत्तर (A) 

7. ‘वाच्यार्थ’ कहते हैं- 

(A) व्यंजक शब्द के अर्थ को 

(B) वाचक शब्द के अर्थ को 

(C) गूढ़ शब्द के अर्थ को 

(D) संकर शब्द के अर्थ को 

उत्तर (B) 

8. रूढ़, यौगिक और योगरूढ़ शब्दों का अर्थ बोध किस  

शब्द शक्ति से होता है? 

(A) व्यंजना 

(B) अविधा 

(C) लक्षणा 

(D) तात्पर्या 

उत्तर (B) 

9. शब्द शक्ति का स्रोत नहीं है- 

(A) पदार्थ 

(B) अनेकार्थी व्यंजना 

(C) प्रयोजन  

(D) ध्वनि 

उत्तर (D) 

10. अर्थबोध कराने के सम्बन्ध में कौनसा कथन सत्य है? 

(A) अविधा शब्द शक्ति लक्षणा पर आश्रित होती है 

(B) लक्षणा शक्ति व्यंजना पर आश्रित होती है 

(C) अविधा शब्द शक्ति लक्षणा व व्यंजना दोनों पर आश्रित होती है 

(D) लक्षणा एवं व्यंजना दोनों शब्द शक्तियाँ अविधा पर आश्रित होती हैं 

उत्तर (C) 

11. आचार्य मम्मट ने काव्य के कितने भेद बताए हैं? 

(A) चार 

(B) तीन 

(C) पाँच 

(D) छः 

उत्तर (B) 

12. कौनसा कवि ‘अर्थगौरव’ के लिए प्रसिद्ध है? 

(A) भारवि 

(B) श्रीहर्ष 

(C) भास  

(D) कालिदास 

उत्तर (A) 

13. ‘साक्षात् संकेतित’ किसे कहा गया है? 

(A) व्यंजना 

(B) अविधा 

(C) लक्षणा 

(D) तात्पर्या 

उत्तर (B) 

14. मुहावरे एवं लोकोक्तियों में होती है – 

(A) अविधा 

(B) व्यंजना 

(C) लक्षणा  

(D) इनमें से कोई नहीं  

उत्तर (C) 

15. रूढ़ा और प्रयोजनवती किस शब्द शक्ति से सम्बद्ध हैं? 

(A) अविधा 

(B) व्यंजना 

(C) लक्षणा 

(D) तात्पर्या 

उत्तर (C) 

16. कौशल्या के वचन सुनि, भरत सहित रनिवास । 

      व्याकुल विलपत राजगृह, मानहुं शोक निवास ।। 

      उपर्युक्त दोहे में शब्द शक्ति है- 

(A) तात्पर्यवृत्ति 

(B) लक्षणा 

(C) अविधा 

(D) व्यंजना 

उत्तर (B) 

17. “सिन्धु सेज पर धरा वधू, अब तनिक संकुचित बैठी सी।” 

इस पंक्ति में शब्द शक्ति है- 

(A) लक्षणा 

(B) तात्पर्यवृत्ति 

(C) अविधा  

(D) व्यंजना  

उत्तर (D) 

18. ‘कर्णधार सँभालकर तलवार अपनी थामना’ इस पंक्ति में  कौनसी शब्द शक्ति है? 

(A) तात्पर्य 

(B) लक्षणा 

(C) अविधा 

(D) व्यंजना  

उत्तर (D) 

19. रूपकातिश्योक्ति में लक्षणा शक्ति होती है- 

(A) सारोपा 

(B) शुद्धा 

(C) साध्यवसाना 

(D) उपादान 

उत्तर (C) 

20. श्लेष अलंकार में होती है- 

(A) अविधा 

(B) व्यंजना 

(C) लक्षणा 

(D) तात्पर्य 

उत्तर (B) 

21. शब्द के जिस अर्थ को न वाच्य कह सकते हैं और न लक्ष्य ही, उसे क्या कहेंगे? 

(A) गुण 

(B) रीति 

(C) दोष 

(D) व्यंग्य 

उत्तर (D) 

22. व्यंजना शब्द शक्ति होती है- 

(A) उत्कृष्ट 

(B) अधम 

(C) मध्यम  

(D) विषम  

उत्तर (A) 

23. काव्योत्कर्ष के साधक तत्व हैं- 

(A) अलंकार  

(B) ध्वनि  

(C) गुण  

(D) वक्रोक्ति 

उत्तर (C) 

24. ‘रस का धर्म’ किसे कहा गया है ? 

(A) वृत्ति 

(B) अलंकार 

(C) गुण  

(D) ध्वनि 

उत्तर (C) 

25. काव्य गुण को मूल तत्व के रूप में मानने वाले आचार्य हैं – 

(A) कुंतक 

(B) क्षेमेन्द्र 

(C) वामन  

(D) भामाह  

उत्तर (C) 

26. पंडितराज जगन्नाथ ने काव्य गुण को किस रूप में माना है ? 

(A) शोभाकारक धर्म के रूप में 

(B) मूल तत्व के रूप में 

(C) शब्दार्थ के रूप में 

(D) उपर्युक्त सभी रूपों में 

उत्तर (C) 

27. भरतमुनि ने कितने गुणों का उल्लेख किया है? 

(A) छ: 

(B) दस 

(C) चार  

(D) आठ  

उत्तर (B) 

28. आचार्य मम्मट ने काव्य गुण माने हैं— 

(A) तीन 

(B) चार 

(C) पाँच 

(D) छः 

उत्तर (A) 

29. निरख सखी ये खंजन आए। 

      फेरे उन मेरे रंजन ने इधर नयन मन भाए। 

     उपर्युक्त पंक्तियों में कौनसा गुण है? 

(A) प्रसाद  

(B) ओज 

(C) माधुर्य  

(D) इनमें से कोई नहीं 

उत्तर (C) 

30. “एत एवं विपर्यस्ता गुणः काव्येषु कीर्तिताः ।” यह कथन किसका है? 

(A) भरत 

(B) दण्डी 

(C) वामन 

(D) कुंतक 

उत्तर (A) 

31. माधुर्य गुण किस रस में नहीं होता? 

(A) शृंगार

(B) शांत 

(C) करुण 

(D) रौद्र 

उत्तर (D) 

32. माधुर्य गुण में आवश्यक हैं— 

(A) ‘ट’ वर्ग के वर्णोंयुक्त शब्द 

(B) समासयुक्त बड़े शब्द 

(C) ‘र’ के संयोग से बने शब्द 

(D) कोमल एवं सानुनासिक वर्णों से युक्त शब्द 

उत्तर (D) 

33. काव्य में भावनाओं को उत्साहित करने वाले गुण को कहते हैं— 

(A) माधुर्य 

(B) प्रसाद 

(C) ओज 

(D) इनमें से कोई नहीं 

उत्तर (C) 

34. वीर, वीभत्स और रौद्र रस में होता है— 

(A) ओज 

(B) माधुर्य 

(C) प्रसाद 

(D) ये सभी  

उत्तर (A) 

35. शत घूर्णावर्त, तरंग भंग उठते पहाड़ 

       जल-राशि राशि जल पर चढ़ता खाता पछाड़ 

       तोड़ता बंध-प्रतिसंध धरा, हो स्फीत वक्ष 

       दिग्विजय- अर्थ प्रतिपल समर्थ बढ़ता समक्ष । 

       उपर्युक्त पंक्तियों में कौनसा गुण है ? 

(A) माधुर्य 

(B) ओज 

(C) प्रसाद 

(D) ये सभी 

उत्तर (B) 

36. सभी रसों के उत्कर्ष में सहायक गुण है – 

(A) माधुर्य 

(B) ओज  

(C) प्रसाद 

(D) ये सभी 

उत्तर (C) 

37. “मधुमय वसंत जीवन वन के, 

       वह अंतरिक्ष की लहरों में। 

       कब आए थे तुम चुपके से, 

       रजनी के पिछले पहरों में। ” 

       उपर्युक्त पंक्तियों में कौनसा गुण है? 

(A) ओज  

(B) प्रसाद  

(C) माधुर्य 

(D) ये सभी 

उत्तर (B) 

38. ‘रसापकर्षकः दोषाः’ किसने कहा है ? 

(A) वामन 

(B) विश्वनाथ 

(C) रुय्यक  

(D) भरत 

उत्तर (B) 

39. आचार्य भरत ने कितने काव्य-दोषों का उल्लेख किया है ? 

(A) दस 

(B) चौदह 

(C) आठ 

(D) बारह 

उत्तर (A) 

40. मम्मट के अनुसार, काव्य-दोषों के कितने भेद हैं? 

(A) तीन 

(B) पाँच 

(C) चार 

(D) छः 

उत्तर (A) 

41. ‘तेरी ही छाती है, सचमुच उपमोचितस्तनी’ इस काव्य पंक्ति में काव्य दोष है- 

(A) श्रुतिकटुत्व 

(B) च्युतसंस्कृति 

(C) क्लिष्टत्व 

(D) ग्राम्यत्व 

उत्तर (C) 

42. मरम बचन जब सीता बोला। 

      हरि प्रेरित लछिमन मन डोला ॥ 

      इस चौपाई में काव्य दोष है- 

(A) श्रुतिकटुत्व 

(B) ग्राम्यत्व 

(C) च्युतसंस्कृति 

(D) पुनरुक्ति 

उत्तर (C) 

43. ‘नतरु बांझ भलि बाद बियानी’ इस काव्य-पंक्ति में कौनसा दोष है? 

(A) च्युतसंस्कृति 

(B) ग्राम्यत्व 

(C) संदिग्धत्व 

(D) क्लिष्टत्व 

उत्तर (B) 

44. ‘मृदुबानी मीठी लगै बात कविन की उक्ति’ इसमें काव्य दोष है। 

(A) च्युत संस्कृति 

(B) ग्राम्यत्व 

(C) श्रुतिकटुत्व 

(D) पुनरुक्ति 

उत्तर (D) 

45. “अवसर न खो निठल्ली 

      बढ़ जा बढ़ जा विटप निकट बल्ली 

     अब छोड़ना न लल्ली 

     कदम्ब अवलंब तू मल्ली ।” 

     उपर्युक्त पंक्तियों में कौनसा काव्य दोष है? 

(A) शब्द दोष 

(B) अर्थ दोष 

(C) रस दोष 

(D) ये सभी 

उत्तर (A) 

46.”आकाश जाल सब ओर तना 

     रवि तंतुवाय है आज बना, 

     करता है पद पहार वही 

     मक्खी सी भिन्ना रही मही।” 

     उपर्युक्त पंक्तियों में काव्य दोष है- 

(A) शब्द दोष 

(B) रस दोष 

(C) अर्थ दोष 

(D) अन्य दोष 

उत्तर (C) 

47. मुख सुखाहि लोचन स्रवहि, सोकु न हृदय समाय । 

       मनहुँ करुन रस कटकई, उतरा अवध बजाय ॥ 

       इस दोहे में काव्य-दोष है- 

(A) शब्द दोष 

(B) रस दोष 

(C) अर्थ दोष 

(D) ये सभी 

उत्तर (B) 

48. कीरति भनिति भूति भल होई । 

       सुरसरि सम सब कर हित होई ॥ 

इस चौपाई में तुलसीदास ने किस काव्य प्रयोजन को महत्व दिया है? 

(A) कीर्ति प्राप्ति 

(B) लोकमंगल 

(C) अर्थ प्राप्ति 

(D) स्वांतःसुखाय 

उत्तर (B) 

49. रीति को काव्य की आत्मा बताने वाले आचार्य हैं- 

(A) कुंतक 

(B) वामन 

(C) भामाह 

(D) क्षेमेन्द्र 

उत्तर (B) 

50. रीति के कितने भेद हैं? 

(A) दो 

(B) चार 

(C) तीन 

(D) पाँच 

उत्तर (C)

Leave a Comment

error: Content is protected !!